Home Home देश के लोकतांत्रिक व संवैधानिक मूल्यों को बचाना आज की सबसे...

देश के लोकतांत्रिक व संवैधानिक मूल्यों को बचाना आज की सबसे बड़ी चुनौती

52
0

देहरादूनः-उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने 73 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर यहां कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में झंडारोहण करते हुए देश व राज्यवासियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दीं। इस अवसर पर उन्होंने समस्त महान स्वतंत्रता सेनानियों का स्मरण करते हुए कहा कि आज यदि हम खुली हवा में सांस ले रहे हैं तो वह उन महान स्वतंत्रता सेनानियों की देन है, जिन्होंने अपने प्राणों को नौछावर कर देश की आजादी के लिए शहादत दी है। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी के नेतृत्व में देश के हजारों हजार नौ जवान आजादी के लिए अपने प्राणों की बलि देने के लिए तैयार थे। उन्होंने कहा कि 8 अगस्त 1942 की रात को कांग्रेस महासमिति के समक्ष भारत छोड़ो आन्दोलन के प्रस्ताव पर बोलते हुए महात्मा गांधी ने कहा था कि मैं आपको एक ही मंत्र देता हूं ‘करो या मरो’। आजादी डरपोक के लिए नहीं है, जिनमें कुछ कर गुजरने की ताकत है, वही जिंदा रहते हैं। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी के करो या मरो के मंत्र पर अपने जीवन को जंगे आजादी के लिए आहुत करने के लिए अपने घरों से निकल पड़े। देश को आजादी दिलाने में सबसे अधिक संख्या नौजवानों की थी।
     श्री प्रीतम सिंह ने कहा कि आज दुर्भाग्य से ऐसे लोग सत्ता में हैं जो स्वतंत्रता आन्दोलन के भागीदार नहीं थे और सत्ता में बने रहने के लिए देश से झूठ बोल रहे हैं। उन्होंने कहा कि जो लोग यह कह रहे है कि 70 वर्षो में देश में कुछ नहीं हुआ उन्हें उन महान स्वतंत्रता सेनानियों के इतिहास को पढ़ना चाहिए। उन्होेंने कहा अंग्रेज देश को कंगाल कर गये थे, परन्तु देश किसी से भी मुकाबला करने में सक्षम है। उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं का आह्वान करते हुए कहा कि देश की जनता आज कांग्रेस की ओर देख रही है, ऐसे में हम सबका कर्तव्य है कि उन फिरकापस्त लोगों का मुकाबला करें जो देश में भाईचारे को तार-तार करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि लगातार देश के लोकतांत्रिक व संवैधानिक मूल्यों पर साम्प्रदायिक ताकतों द्वारा प्रहार किया जा रहा है जिसका हम सबको एकजुट होकर सामना करना होगा।
     इस अवसर पर विधायक मनोज रावत, पूर्व मंत्री शूरवीर सिंह सजवाण, प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकान्त धस्माना, जोत सिंह बिष्ट, मुख्य प्रवक्ता मथुरा दत्त जोशी, मातवर सिंह कंडारी, महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा, पूर्व विधायक राजकुमार, नारायण पाल, प्रदेश अनुशासन समिति अध्यक्ष प्रमोद कुमार सिंह, अशोक वर्मा, प्रदेश प्रवक्ता गरिमा महरा दसौनी, संजय भट्ट, जिलाध्यक्ष संजय किशोर, अमरजीत सिंह, ताहिर अली, याकूब सिद्दीकी, कै. बलवीर सिंह रावत, नीनू सहगल, राजेश शर्मा, नवीन जोशी, डाॅ.विजेन्द्र पाल, गिरीश पुनेड़ा, दीप बोहरा, सुमित्रा ध्यानी, कमलेश रमन, सुलेमान अली, विरेन्द्र बुटोला, देवेन्द्र सती, देवेन्द्र सिंह, शान्ति रावत, मंजूला तोमर, महेश जोशी, सुधीर सुनहरा, कुवंर सिह यादव, दीवान सिंह तोमर, पूरन सिंह रावत, लाखीराम, बिजल्वाण, पुष्पा पंवार, सावित्री थापा, चन्द्रकला नेगी, अनुराधा तिवाड़ी, प्रियांशु छावड़ा, ऐतात अहमद, विशाल मौर्य, संग्राम सिह पुंडीर, जगदीश चैहान, बाला शर्मा,रोशनी गोदियाल, मनमोहन शर्मा, जे. पी. निगम, ओम प्रकाश सती, चरण कौशल, आर. पी. चौहान, मनमोहन राणा, उदिमा देवी, आदित्य गर्ग, नीरज त्यागी, संदीप धूलिया, राजकुमार यादव, कृष्णपाल, ललित थपलियाल, अनिश कुरैशी, जयपाल सेठी, नानक चन्द, सलीम अहमद, मंजू चैहान, राजेन्द्र चैहान, राजेश पांडेय आदि उपस्थित थे।