Home Home कृषि उत्पादकता और बागवानी के लिए अनूप पटवाल को हरेला सम्मान

कृषि उत्पादकता और बागवानी के लिए अनूप पटवाल को हरेला सम्मान

61
0

  • मुख्यमंत्री आवास में 14 अगस्त को पर्वतीय भोज के साथ संपन्न होगा धाद का हरेला सम्मान

 
देहरादून –
उत्तराखंड हिमालय में कृषि बागवानी और उत्पादकता के लिए वर्ष 2019 का जसोदा नवानी हरेला सम्मान पनाउन थैलीसैण के अनूप पटवाल को दिया जाएगा । सम्मान में 51000 रुपए की धनराशि, अंगवस्त्र और उनके योगदान के निमित्त  मानपत्र भेंट किया जायेगा। हरेला सम्मान की घोषणा धाद के पदाधिकारियों ने यहां प्रेस क्लब में आयोजित प्रेस वार्ता में की।

धाद के अध्यक्ष लोकेश नवानी ने कहा कि उत्तराखंड में आजीविका के विकल्पों के अभाव या कमतर विकल्पों के चलते पर्वतीय क्षेत्रों में 200 वर्षों से पलायन जारी है, जो राज्य गठन के बाद तीव्र हुआ है ।पर्वतीय कृषि निरंतर घट रही है और उत्पादन में ह्रास हो रहा है । धाद मानती है कि निरंतर हो रहे पलायन का एक उत्तर यहाँ की उत्पादकता को प्रोत्साहित करते हुए आम समाज को इसके पक्ष में खड़ा करना है। पर्वतीय क्षेत्रों में कई रचनात्मक प्रयोग विभिन्न व्यक्तियों और समूहों द्वारा गत वर्षों में किये गए हैं। धाद ऐसे प्रयासों को प्रोत्साहित करने के लिए वर्ष 2017 से जसोदा नवानी हरेला सम्मान प्रदान करती है । 2017 में यह सम्मान सुधीर सुन्द्रियाल और 2018 में प्रेमचंद शर्मा को दिया जा चूका है । इस वर्ष पांच सदस्यीय चयन समिति ने यह पुरुस्कार पनाउन थैलीसैण के अनूप पटवाल को अपने क्षेत्र में बागवानी में किये गए प्रयोगों के लिए घोषित किया है। धाद उन्हें इसलिए सम्मानित कर रही है क्योंकि वे समाज की खुशहाली और समृद्धि की वास्तविक दिशा के लिए काम कर रहे हैं। वे अपने क्षेत्र में उत्पादकता की संस्कृति बनाने में कामयाब हुए हैं।