Home उत्तराखंड आक्रोश: पिंकी रावत की हत्या से गुस्साए पर्वतीय समाज ने लगाया जाम

आक्रोश: पिंकी रावत की हत्या से गुस्साए पर्वतीय समाज ने लगाया जाम

129
0


काशीपुर- शहर में कल दिनदहाड़े हुई पिंकी रावत के कत्ल के बाद आज काशीपुर का आवाम मृतका पिंकी के परिजनों के आंसुओं को नहीं देख सका और उनके दुःख का साझीदार बन गया। स्थानीय पुलिस इस जघन्य हत्याकांड के 24 घंटे बीत  जाने के बाद भी कातिलों की गिरफ्तारी तो दूर अभी  हत्यारों की सुरागरशी भी नहीं कर  पाई है । आवाम के अंदर, खासतौर से यहां के पर्वतीय समाज के लोगों के भीतर खौलता हुआ गुस्सा मृतका पिंकी रावत के परिजनों के आंसुओं और रुदन के साथ फूट कर बाहर आ गया।गुस्साऊ लोगों ने nh जाम कर चीमा चौराहे पर जोरदार प्रदर्शन करते हुए धरना शुरू कर दिया। इसी बीच उनका दुःख दर्द साझा करने पहुंचे स्थानीय विधायक हरभजन सिंह चीमा को भी आमजन के गुस्से से दो चार होना पड़ा। आक्रोशित जनता चीमा को सुनने को तैयार न थी। आखिर विधायक चीमू को भी कहना पड़ा कि पंजाबी-पहाड़ी की बात न करो| 

– पिंकी रावत की मौत के बाद शहर के लोगों में खासा आक्रोश।
– कातिलों की जल्द गिरफ्तारी को लेकर किया राष्ट्रीय राजमार्ग 121 जाम।
– चीमा चौराहे पर आक्रोशित लोगों ने किया धरना प्रदर्शन।
– प्रदर्शनकारियों ने प्रशासन और स्थानीय विधायक के खिलाफ लगाए हाय हाय के नारे।
– पिंकी रावत की मौत पर सहानुभूति दिखाना शहर की मेयर और विधायक को पड़ा भारी।
– कल दोपहर मोबाइल की दुकान में दिन दहाड़े हुई थी पिंकी  रावत की हत्या।
– एसडीएम ने दिया 48 घंटे के अंदर हत्यारों की गिरफ्तारी का आश्वासन।

क्रूर हत्यारों का शिकार बनी बेकसूर पिंकी रावत


  गौरतलब है कि कल काशीपुर में धुमाकोट से आ कर मोबाइल शाप में काम करने वाली पिंकी रावत का दुकान में ही दिनदहाड़े कत्ल कर दिया गया था। प्रशाशन का कहना है कि 48 घंटे के भीतर अपराधी कानून के शिकंजे में होंगे।