Home Home मदिरा की मलिका पुलिस के फंदे में

मदिरा की मलिका पुलिस के फंदे में

57
0

ऋषिकेश – कहा जाता है कि मर्दों की नशाखोरी का सबसे ज्यादा खामियाजा घर की महिलाओं को भुगतना पड़ता है लेकिन जब खुद कोई महिला ही घर की दहलीज लांघ कर मर्दों को नशाखोरी का सामान मुहैया कराने लगे तो क्या कहा जाए ? जी हां, बात हो रही है ऋषिकेश की सपना की, जिसने शराब के गैरकानूनी धंधे को ही कमाई का जरिया बना लिया है। शनिवार को अवैध शराब के साथ जब 37 साल की सपना पुलिस के हत्थे चढ़ी तो उसके कारनामों की लंबी फेहरिस्त जानकर पुलिस भी दंग रह गयी। दरअसल , नशा और नशीले पदार्थों के कारोबार के खिलाफ चलाए जा रहे पुलिस अभियान के तहत नियमित चैकिंग के दौरान रानीपोखरी पुलिस ने वीरपुर मोड़ के समीप एक संदिग्ध महिला को 110 पव्वे अवैध देशी शराब जाफ़रान के साथ गिरफ्तार किया। महिला ने अपना नाम श्रीमती सपना पत्नी रामकुमार निवासी नयी जाटव बस्ती, ऋषिकेश बताया। महिला ने बताया कि वह बरामद शराब को ऋषिकेश व अन्य पहाड़ी इलाकों में बेचने के लिए ले जा रही थी।
पुलिस द्वारा इस सम्बन्ध में थाना रानीपोखरी में मुकदमा अपराध संख्या 47/2019 धारा 60 आबकारी अधिनियम बनाम सपना पंजीकृत किया गया। पुलिस की पूछताछ में महिला ने बताया कि वह यह शराब देहरादून से कम दाम में खरीदकर पहाडी क्षेत्रों में ऊँचे दामों में बेचने के लिये ले जा रही थी। महिला ने बताया कि वह पूर्व में कोतवाली ऋषिकेश, रायवाला, डोईवाला व जनपद के अन्य थानों से भी शराब तस्करी में जेल जा चुकी है। पुलिस अभियुक्ता के आपराधिक इतिहास की जानकारी कर रही है।
पुलिस टीम में सिपाही पूरण सिंह नेगी, हरीश पाण्डेय और महिला सिपाही सुलेखा भारद्वाज, सभी थाना रानीपोखरी जनपद देहरादून शामिल थे।