Home उत्तराखंड किट्टी के नाम पर लाखों रुपए की धोखाधड़ी करने वाली महिला गिरफ्तार

किट्टी के नाम पर लाखों रुपए की धोखाधड़ी करने वाली महिला गिरफ्तार

143
0


देहरादून। राजधानी में एक और ‘किट्टी कांड’ सामने आया है। जिसमें एक महिला परि पांच सौ से ज्यादा लोगों से लाखों रुपए किट्टी के नाम पर ठग लेने का आरोप है। आरोपी महिला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। लगातार किट्टी के नाम पर लोगों को लूटने वाली महिलाओं को उनके सहयोगी पतियों समेत पुलिस दबोच रही है। थाना डालनवाला पुलिस ने 500 लोगों से किट्टी के नाम पर धोखाधड़ी कर लाखों रुपये हड़पने वाली एक महिला को पकड़ा है। आरोपी महिला लोगों को पैसे वापस नहीं कर रही थी। पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने एक्शन लेते हुये आरोपी महिला को धर दबोचा।
21 सितंबर को संतोष पत्नी ध्यान चंद निवासी सैयद मोहल्ला, किशन नगर, देहरादून द्वारा थाना डालनवाला पर किट्टी के नाम पर धोखाधड़ी करने के संबंध में बबीता भट्ट पत्नी स्व. अजय भट्ट निवासी चुग कॉलोनी, नालापानी, देहरादून के विरुद्ध लिखित तहरीर दी गई, जिसके आधार पर थाना डालनवाला में धारा 420/406 भादवि व 4/5 चिटफंड धन परिचालन स्कीम पाबंदी अधिनियम व धारा 3 उत्तरांचल निपेक्षक (जमा कर्ता) संरक्षण (वित्तीय अधिष्ठानों में) अधिनियम 2005 का अभियोग पंजीकृत किया गया। मामले की विवेचना महिला उपनिरीक्षक विनिता चौहान के सुपुर्द की गई।

विवेचना के दौरान प्रकाश में आया कि बबीता भट्ट द्वारा अपने घर से किट्टी का कार्य किया जा रहा था तथा करीब 500 लोगों से किट्टी के नाम पर लाखों रुपये एकत्रित किए गए लेकिन वापसी के समय रुपये वापस करने से मना कर रही है तथा अपने घर से भी गायब ऊ गई है। मामले की गंभीरता को देखते हुए उपरोक्त महिला की गिरफ्तारी हेतु त्वरित कार्रवाई करते हुए महिला उपनिरीक्षक विनिता चौहान द्वारा न्यायालय से वारंट प्राप्त कर अभियुक्त की तलाश प्रारंभ की गई। 28 सितंबर को बबीता भट्ट को, जब वह शहर छोड़ कर भागने की तैयारी में थी, परेड ग्राउंड के पास से विवेचक विनिता चौहान द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में आरोपी बबीता भट्ट द्वारा बताया गया कि पहले वह और उसके पति मिलकर किट्टी चलाते थे। उसके पति की मृत्यु 2016 में हो चुकी है। अब उसके द्वारा अकेले किट्टी का काम किया जा रहा है। आरोपी महिला को न्यायालय के समक्ष पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है। बबीता भट्ट को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में महिला उपनिरीक्षक विनीता चौहान, महिला कांस्टेबल तुलसी शर्मा व रूपा सैनी शामिल थीं।