Home Home विद्यार्थियों ने सिखाया ग्रामीणों को स्वछता का मंत्र

विद्यार्थियों ने सिखाया ग्रामीणों को स्वछता का मंत्र

114
0

नरेंद्रनगर ( टिहरी गढ़वाल )- 2013 की आपदा के कारण डौंर गांव से कांडा गांव में विस्थापित हुए परिवारों से जनसंपर्क कर धर्मानन्द राजकीय महाविद्यालय नरेंद्रनगर की एनएसएस यूनिट ने गांव में स्वच्छता जागरूकता अभियान चलाया। छात्रों ने ग्रामीणों के साथ साफ-सफाई, दूषित जल संबंधी बीमारियों, डेंगू बुखार से बचाव के तौर तरीकों के साथ ही पर्यावरण संबंधी जारकारी साझा की।

भारत सरकार के युवा और खेल मामलों के मंत्रालय की ओर से एक से 15 अगस्त तक स्वच्छता पखवाड़ा के अंतर्गत संपूर्ण भारत में कई कार्यक्रमों के आयोजन की रूप रेखा तैयार की गई है। इसी कार्यक्रम के अंतर्गत महाविद्यालय के छात्रों ने क्षेत्रीय सरोकारों को घ्यान में रखते हुए गांव में स्वच्छता एवं जागरूकता अभियान चलाया। इस अभियान के दौरान छात्राओं ने जहां गोबर के रख रखाव एवं घर के प्रांगण में पानी के जमाव से डेंगू जैसी बीमारियों के होने के खतरे से सजग करवाया, वहीं, किसी भी प्रकार की अव्यवस्था की स्थिति में तुरंत डॉक्टर से संपर्क करने के प्रति जागरूक किया। इसके अंतर्गत डेंगू बुखार को पहचानने और उससे बचाव के कुछ उपाय भी छात्रों ने ग्रामीण लोगों से साझा किए।

एनएसएस प्रभारी सुधा रानी और डॉ. संजय कुमार ने ग्रामीणों को घर के आस-पास घास एवं कूड़े करकट एकत्रित न करने, छत में पानी की टंकियों को खुला न छोड़ने, पूरी बाजू के कपड़े पहनने तथा पानी के बर्तनों को हमेशा ढक कर रखने की सलाह दी। इस दौरान ग्रामीणों ने छात्रों से अपनी समस्याओं को साझा किया। कांडा गांव के बालक सिंह कैंतुरा ने बताया कि हालांकि गांव में अधिकतर परिवारों के पास शौचालय की उचित व्यवस्था है लेकिन अब भी कई परिवार ऐसे हैं जिनके पास शौचालय निर्माण के लिए उपयुक्त धन की व्यवस्था नहीं है।

शोभन सिंह कैंतुरा के अनुसार 2013 की आपदा में डौंर गांव में भारी भूस्खलन होने के कारण ही वहां के अधिकतर ग्रामीण कांडा गांव में विस्थापित हुए थे। इसके चलते ही गांव में अब भी कई समस्याएं हैं जिनके लिए ग्रामीण लगातार जूझ रहे हैं। इस अभियान के दौरान छात्रों ने विक्रम सिंह, प्रेम सिंह, वचन सिंह, बैसाखी देवी, बीना, दीपा, शिव सिंह कैंतुरा आदि ग्रामीणों से विस्तृत चर्चा की। इस अवसर पर एनएसएस प्रभारी सुधारानी, डॉ. संजय कुमार के अलावा डॉ. अनिल नैथानी, डॉ. विक्रम सिंह बर्त्वाल, डॉ. मनोज कुमार, विशाल त्यागी व अजय कैंतुरा के अलावा कालेज के छात्रा-छात्राएं प्रगति, धर्मपाल, पायल कंडारी, सौरभ सिंह, अंकित पुण्डीर, प्रियंका, कविता आदि मौजूद रहे।अभियान के दसवें दिन छात्र छात्राओं ने महाविद्यालय के नवनिर्मित परिसर की सफाई की जिसमे गाजर घास ,लेंटाना और अन्य खरपतवार का उन्मूलन किया गया.