Home उत्तराखंड सीएम हेल्पलाइन पोर्टल के अधिकारियों को प्रशिक्षण

सीएम हेल्पलाइन पोर्टल के अधिकारियों को प्रशिक्षण

92
0

                                         

चमोली- जनसामान्य की शिकायतों के निराकरण के लिए बनाए गए सीएम हेल्पलाइन पोर्टल 1905 के सभी स्तर के अधिकारियों को प्रशिक्षण देकर दक्ष किया जा रहा है। इसी क्रम में बुधवार को जनपद चमोली के एल-1 और एल-2 स्तर के सभी अधिकारियों को जिला पंचायत सभागार में प्रशिक्षण दिया गया। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में सीएम हेल्पलाइन के प्रभारी रवीन्द्र दत्त ने बताया कि जनता की सहूलियत और शिकायत प्रक्रिया को औरसरल बनाने के लिये  मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के निर्देश पर क्षेत्रीय भाषाओं में भी सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत दर्ज करने की सुविधा दी गई है। उत्तराखण्ड का कोई भी नागरिक कई भाषाओं में सीएम हेल्पलाइन टोल फ्री नंबर 1905 पर हिंदी, अंग्रेजी, गढ़वाली, पंजाबी, कुमाउंनी भाषा में अपनी शिकायत दर्ज करा सकता है। जिसमें प्रत्येक स्तर पर अधिकारियों द्वारा 7 दिन के भीतर समस्याओं का निदान करना आवश्यक होगा। उन्होंने कहा कि  मुख्यमंत्री के निर्देशों के क्रम में प्रत्येक जनपद के अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री चाहते हैं कि जनता को छोटी-छोटी सामान्य शिकायतों के लिए सचिवालय या मुख्यमंत्री आवास के चक्कर न काटने पड़ें, इसलिए अधिकारी सामान्य शिकायतों का अपने स्तर पर त्वरित निस्तारण करें। उन्होंने बताया कि हेल्पलाइन पर प्राप्त शिकायत का समयबद्ध निराकरण जरूरी है। इसमें ब्लाॅक व तहसील स्तर के अधिकारी को प्रथम स्तर एल-1, जिलाधिकारी व विभाग के जिला स्तर के अधिकारी को द्वितीय स्तर एल-2, सम्बन्धित विभाग के विभागाध्यक्ष को तृतीय स्तर एल-3 तथा सम्बन्धित विभाग के सचिव को चतुर्थ स्तर एल-4 में वर्गीकृत किया गया है। उन्होंने बताया कि शिकायत पंजीकृत होने पर वह प्रथम स्तर एल-1 अधिकारी के डैश बोर्ड पर प्रदर्शित होती है। निर्धारित समय 7 दिन में निस्तारण न हो तो उसे क्रमवार ऊपरी स्तर पर भेज दिया जाता है।