Home उत्तराखंड आनलाइन ठगी से बचने की पुलिस ने जारी की एडवाइजरी

आनलाइन ठगी से बचने की पुलिस ने जारी की एडवाइजरी

76
0

                                   

This image has an empty alt attribute; its file name is download.jpg

 ऋषिकेश – जो काम बैंक प्रबंधन को करना चाहिए था, उस काम की जिम्मेवारी अब पुलिस ने अपने ऊपर ले ली है। जी हां, बात हो रही है आनलाइन ठगी की घटनाओं पर रोक लगाने की। इन दिनों आनलाइन ठगी की लगातार बढ़ती जा रही घटनाओं को लेकर पुलिस का काम कुछ ज्यादा ही बढ़ गया है। ठगी की ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए कोतवाली पुलिस ने अब लोगों को जागरूक करने की मुहिम शुरू कर दी है। इस मुहिम में पुलिस सोशल मीडिया का भी सहारा ले रही है। पुलिस लोगों को फोन पर आने वाली फर्जी काॅल्स के बारे में बताने के साथ ही उन्हें कंप्यूटर व सार्वजनिक स्थानों पर मोबाइल चार्ज कराते वक्त भी सावधान रहने की सलाह दे रही है। पुलिस ने लोगों को आनलाइन ठगी का शिकार होने से बचाने के मकसद से यह जागरूकता अभियान शुरू किया है। हाल के दिनों में ऋषिकेश क्षेत्र में आनलाइन ठगी की एक दर्जन से भी ज्यादा घटनाएं हो चुकी हैं जो पुलिस के लिए किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं हैं। इस तरह की वारदातों को रोकने के लिए गंभीर ऋषिकेश पुलिस का मानना है कि लोगों की जागरूकता और सतर्कता की मदद से ही ऐसी घटनाओं को रोका जा सकता है। सोशल मीडिया पर प्रसारित संदेश के जरिए पुलिस लोगों को निम्नलिखित सतर्कता बरतने की सलाह दे रही है –

1.बैंक से प्राप्त होने वाला वन टाइम पासवर्ड 

अपने मोबाइल पर बैंक से प्राप्त  संदेश को ध्यानपूर्वक पढ़ें।

मोबाइल पर प्राप्त ओटीपी पासवर्ड,जो 6 अंकों का होता है, किसी को भी नहीं बताएं।

-मैसेज समझ में नहीं आने पर बैंक जाकर जानकारी प्राप्त करें।

  2. फर्जी फोन काॅल्स   

 – बैंक का अधिकारी बोल रहा हूं। आपका एटीएम कार्ड ब्लाॅक हो गया है।

– बैंक का अधिकारी बोल रहा हूं। आपके बैंक खाते को आधार कार्ड से लिंक करना है

– आप अपने एटीएम कार्ड के 16 अंकों का नंबर, वैधता दिनांक और एटीएम कार्ड के पीछे लिखे नंबरों को बताइए।

3. फर्जी फोन काॅल से बचाव

– एटीएम कार्ड नंबर और वैधता दिनांक व कार्ड के पीछे लिखे नंबर समेत ओटीपी पासवर्ड बताने पर आप तत्काल ठगी का शिकार हो जाएंगे।

– बैंक खाता और एटीएम से संबंधित जानकारी किसी को नहीं बताएं और इस तरह के काॅल आने पर तत्काल अपने बैंक शाखा से संपर्क करें।

4. एटीएम बूथ का प्रयोग करते समय सावधानियां

– एटीएम बूथ में अपने एटीएम कार्ड का विशेष ध्यान रखें।

– अपना एटीएम कार्ड किसी को न दें। किसी अजनबी से सहायता न लें।

– एटीएम बूथ में जब भी पैसे निकालने जाएं, किसी अनजान व्यक्ति को बूथ के अंदर न आने दें।

– हमेशा अपने एटीएम कार्ड के पिन को छुपाकर अंकित करें, ताकि कोई अनजान व्यक्ति आपका पिन न देखे।   

5. एटीएम कार्ड से पेमेंट करने का तरीका

– कार्ड स्वैप मशीन का प्रयोग स्वयं करें। पासवर्ड छुपाकर अंकित करें।

– शाॅपिंग मॉल, होटल और पेट्रोल पंप पर इस्तेमाल करते समय विशेष ध्यान रखें।

6. फर्जी लाटरी लगने का झांसा

– आपके मोबाइल पर लाटरी लगने के नाम पर भी फर्जी काॅल आ सकते हैं। ऐसे काॅल आने पर लालच में आकर अपना पैसा अज्ञात बैंक खाते में जमा न करें।

– इस तरह की काॅल अज्ञात व्यक्तियों द्वारा लाटरी के नाम पर ठगी करने के लिए की जाती है।

7. टावर लगाने के नाम पर ठगी

– आप मोबाइल टावर लगा कर लाखों कमा सकते हैं।

– आप मोबाइल टावर लगाने के लिए चयनित हुए हैं।

– मोबाइल टावर लगाने के लिए धनराशि बैंक खाते में जमा करें।इस तरह की फोन काॅल्स फर्जी होती हैं। इसलिए झांसे में आकर अपना पैसा अज्ञात बैंक खाते में जमा न करें।