Home Home नयी वाहन नियमावली के विरोध में उठने लगी आवाज

नयी वाहन नियमावली के विरोध में उठने लगी आवाज

86
0

देहरादून- यातायात और वाहन संबंधी नये नियमों में भारी-भरकम जुर्माने का प्रावधान वाहन संचालकों को रास नहीं आ रहा है। उत्तराखंड में भी इस प्रावधान के खिलाफ विरोध के स्वर तेज होने लगे हैं। आगामी 5 सितंबर को ऋषिकेश बस स्टैंड के नजदीक एक होटल में प्रस्तावित बैठक में इस मुद्दे पर आगे की रणनीति तय किए जाने की उम्मीद है। बैठक में गढ़वाल मंडल की सभी यूनियनें, चाहे वह छोटे कमर्शियल वाहन या बड़े कमर्शियल वाहन हों या फिर चाहे छोटे यात्री वाहन एवं बड़े यात्री वाहन हों, सभी संबंधित यूनियनों के पदाधिकारियों को इस बैठक में सम्मिलित होने के लिए न्यौता भेजा गया है। प्रस्तावित बैठक का मुख्य उद्देश्य हाल ही में लागू की गयी मोटर नियमावली की समीक्षा कर आगे की रणनीति करना है। अभी केंद्र सरकार द्वारा मोटर व्हीकल एक्ट में जो भारी जुर्माने का प्रावधान किया गया है उस जुर्माने के लगने से गाड़ी चलाना असंभव हो गया है। इसके साथ ही बच्चों का भरणपोषण कर पाना भी मुश्किल हो गया है। यूनियन नेताओं का कहना है कि केंद्र सरकार की दमनात्मक नीति के विरोध में सभी को एक साथ मिलकर लड़ाई लड़नी होगी। इसलिए सभी पदाधिकारियों का बैठक में पहुंचना आवश्यक है, जिससे सभी मिलजुल कर कोई महत्वपूर्ण निर्णय लिया जा सकेगा।