Home Home सीबीआई जाँच की मांग को लेकर सज़ायाफ्ता कैदी का अनशन

सीबीआई जाँच की मांग को लेकर सज़ायाफ्ता कैदी का अनशन

74
0

हरिद्वार- बलात्कार के मामले में सज़ा काट रहा एक कैदी अपने खिलाफ चले मुकदमे की सी बी आई से जाँच कराये जाने की मांग को लेकर किसी सक्षम न्यायालय में अपील करने की बजाय जेल में ही अनशन पर बैठ गया . हालत बिगड़ने पर उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा. टिहरी ज़िले के घनशाली थाना के तहत गांव भाट निवासी विजय पैन्यूली पुत्र बच्चीराम पैन्यूली बलात्कार के आरोप में हरिद्वार की रोशनाबाद जिला जेल में 10 साल की सज़ा काट रहा है.
पैन्यूली को टिहरी के सत्र न्यायालय द्वारा लम्बी सुनवाई के बाद बलात्कार का दोषी ठहराते हुए 10 साल की सज़ा सुनाई गयी थी, जिसे नैनीताल हाई कोर्ट ने भी बरक़रार रखा . सज़ा के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाने की बजाय पैन्यूली पहली अगस्त से जेल में ही भूख हड़ताल पर बैठ गया . तीन अगस्त को जेल प्रशासन ने उसे जेल अस्पताल में भर्ती करा दिया था, लेकिन वहां भी उसका अनशन जारी रहा. सोमवार को हालत बिगड़ने पर कैदी को जिला अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा.
नवंबर 2016 से जेल में सज़ा भुगत रहे विजय पैन्यूली का कहना है कि उसे आपसी रंजिश के चलते झूठे मुकदमे में फंसाया गया है. उसका आरोप है कि गांव में ठेकेदारों द्वारा कराये गए निर्माण कार्यों में हुए घोटालों के खिलाफ आवाज़ उठाये जाने से नाराज़ कुछ प्रभावशाली लोगों ने एक साज़िश के तहत उसके खिलाफ बलात्कार का झूठा मुकदमा दर्ज़ करवाया. पैन्यूली ने खुद को बेगुनाह बताते हुए सरकार से पूरे मामले की सी बी आई से जाँच कराये जाने की मांग की है.