Home Home कल से नगद लेन-देन पर चुकाना पड़ेगा और अधिक टैक्स

कल से नगद लेन-देन पर चुकाना पड़ेगा और अधिक टैक्स

59
0

नयी दिल्ली– नगद राशि के लेन-देन में पहली सितंबर से 9 बड़े बदलाव होने जा रहे हैं, जो सीधे आपकी जेब पर असर डालेंगे।पहली सितंबर 2019 से कैश में लेन-देन के नियम बदलने जा रहे हैं. सरकार ने एक सीमा से अधिक के कैश निकालने पर दो फीसदी टीडीएस (धन के स्रोत पर टैक्स की कटौती) लगाया है. पहली सितंबर से कैश निकालने का नया नियम लागू होगा। आइए जानें, इससे जुड़ी शर्तों के बारे में…
पहली सितंबर 2019 से कैश में लेन-देन के नियम बदलने जा रहे हैं. सरकार ने एक सीमा से अधिक के कैश निकालने पर दो फीसदी टीडीएस (धन के स्रोत पर कर की कटौती) लगाया है. मतलब साफ है कि अगर कोई व्यक्ति एक वित्तीय वर्ष में एक करोड़ रुपये से अधिक धनराशि अपने बैंक, पोस्ट ऑफिस या को-ऑपरेटिव बैंक के खाते से निकलता है तो उसे दो % टीडीएस देना होगा. ये कदम कैशलेस इकॉनमी बढ़ावा और बड़े नकद लेनदेन को रोकने के लिए उठाया गया है.

This image has an empty alt attribute; its file name is 70199408-a323-4197-b57f-91aedc63f215-1024x768.jpg


इन पर नहीं होगा लागू-

यह नियम सरकार, बैंकिंग कंपनी, बैंकिंग में लगी सहकारी समिति, डाकघर, बैंकिंग प्रतिनिधि और व्हाइट लेबल एटीएम परिचालन करने वाली इकाइयों पर लागू नहीं होगा, क्योंकि व्यवसाय में उन्हें भारी मात्रा में नकद का इस्तेमाल करना होता है.
आपको बता दें कि वित्त मंत्री ने लोकसभा में बजट पर चर्चा का जवाब देते हुए बताया कि वित्त वर्ष 2017-18 में 448 कंपनियां ऐसी रहीं, जिन्होंने बैंक खातों से 5.56 लाख करोड़ रुपये की राशि की नकद निकासी की है.
यही वजह है कि सरकार को बैंक खाते से साल में एक करोड़ रुपये से अधिक की निकासी करने वाले व्यक्तियों और इकाइयों पर टीडीएस (स्रोत पर कर कटौती) लगाना पड़ा है. उपरोक्त 448 इकाइयों के मामले में प्रत्येक ने अपने बैंक खातों से साल में 100-100 करोड़ रुपये से अधिक की राशि निकाली थी।

एक और नियम बदलेगा –

This image has an empty alt attribute; its file name is f181a16f-fde2-4970-814a-b044d2a5ef39-1024x768.jpg

पहली सितंबर से अगर कोई व्यक्ति या एचयूएफ किसी ठेकेदार अथवा प्रोफेशनल व्यक्ति को साल भर में किसी सेवा के लिए 50 लाख का भुगतान करता है तो उसे पांच प्रतिशत टीडीएस देना होगा. यह उन लोगों पर असर डालेगा, जो घर बनवाते समय या फिर शादी के लिए किसी एक व्यक्ति को ही सारा भुगतान करते हैं। पहली सितंबर यानी कल से देश में नौ बड़े बदलाव होने हैं जो आपकी रोजमर्रा की जिंदगी पर काफी असर डालेंगे।
घर खरीदना –
घर खरीदने पर ज्यादा टीडीएस देना होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि अब आप क्लब मेंबरशिप और कार पार्किंग जैसी सुविधाओं के लिए किए गए पेमेंट को प्रॉपर्टी के दाम में जोड़कर टैक्स कटौती की मांग नहीं कर सकते।
घर को रिनोवेट कराने के लिए अगर आप कंट्रैक्टर या प्रफेशनल को 50 लाख रुपये से ज्यादा का पेमेंट करते हैं तो आपको पांच फीसदी टीडीएस देना होगा। जिन लोगों ने अभी तक आधार नंबर को पैन से लिंक नहीं करवाया है, उन्हें इनकम टैक्स डिपार्टमेंट नया पैन जारी करेगा।