Home उत्तराखंड आक्रोश: ट्रेड यूनियन्स संघर्ष समिति ने फूंकी लेबर कोड की प्रतियां  

आक्रोश: ट्रेड यूनियन्स संघर्ष समिति ने फूंकी लेबर कोड की प्रतियां  

149
0

संवाददाता

देहरादून, 01अप्रैल।
उत्तराखण्ड संयुक्त ट्रेड यूनियन्स संघर्ष समिति  ने  लेबर कोड लागू करने के खिलाफ लेबरकोड की प्रतियां फूंककर विरोध जताया। गुरुवार को यहां सीटू, एटक, इंटक के कार्यकर्ताओं ने जलूस निकालकर केन्द्र एवं राज्य सरकार के श्रमिक विरोधी कानूनों के खिलाफ जोरदार नारेबाजी करते हुए उन्हें तत्काल वापस लेने की मांग की ।
इस अवसर पर गांधी पार्क के समक्ष जोरदार नारेबाजी करने के बाद जलूस की शक्ल में राजपुर रोड एस्ले हाॅल चौक पहुंचे तथा श्रम संहिताओं की प्रतियां जलाईं ।

इस अवसर पर सीटू के प्रांतीय अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह नेगी, सचिव लेखराज, एटक के  महामंत्री अशोक शर्मा, बैंक यूनियन के संरक्षक एस एस रजवार , इंटक महामंत्री वीरेंद्र नेगी, गगन कक्कड़, एम आर से हरीश कान्त मिश्रा, ईश्वर पाल शर्मा, अश्विनी त्यागी , अनिल नौटियाल, ताजवरसिंह रावत, अनिल गोस्वामी, रविन्द्र नौडियाल, अनन्त आकाश, जी डी डंगवाल, लक्ष्मी नारायण भट्ट, धर्मानन्द , सत्यम, अनुराधा आदि बड़ी संख्या में लोग शामिल थे। इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा  कि केंद्र सरकार श्रम कानूनों के स्थान पर श्रम संहिताएं लागू कर रही है जिस कारण  श्रम कानूनों को समाप्त कर श्रमिकों के कानूनी अधिकारों को समाप्त कर रही और मजदूरों को गुलामी की ओर धकेला जा रहा है। इसका देशव्यापी विरोध जारी है । वक्ताओं ने कहा कि केंद्र सरकार के खिलाफ मजदूरों के विरोध के कारण आज से ये संहिताएं लागू नहीं कर सकी है । यह मजदूरों की फौरी तौर पर विजय है ।