Home देश शुभ नववर्ष: इन सेवाओं के नियम बदल जाएंगे नये साल में, पूरी...

शुभ नववर्ष: इन सेवाओं के नियम बदल जाएंगे नये साल में, पूरी जानकारी के लिए पढ़िए…

141
0

संवाददाता
नयी दिल्ली, 31 दिसंबर। नया साल 2021 आने में महज एक रात बाकी है. नए साल में बैंकिंग नियमों कई बदलाव हो जाएंगे. Catch News में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, 1 जनवरी, 2021 से सभी वाहनों के लिए FASTags को अनिवार्य कर दिया गया है. जबकि बैंकिंग से संबंधित धोखाधड़ी को रोकने के लिए नया चेक पेमेंट सिस्टम पॉजिटिव पे (Positive Pay) इंट्रोड्यूस किया जा रहा है. इसके अलावा छोटे बिजनेस के लिए GST रिटर्न फाइल करने के नियमों में भी बदलाव होने जा रहा है. इन नए नियमों का बीमा, चैटिंग, पैसों का लेनदेन, खरीददारी और अन्य कई रोजमर्रा के कामों पर असर पड़ेगा.

चेक पेमेंट पॉजिटिव पे

बैंकिंग से जुड़े धोखाधड़ी को रोकने के लिए 1 जनवरी से चेक पेमेंट से जुड़ा नया नियम पॉजिटिव पे (Positive Pay) बैंकों में लागू हो जाएगा।

इसके तहत 50,000 रुपये से अधिक भुगतान वाले चेक के लिए पॉजिटिव पे सिस्टम लागू होगी. यह एक ऑटोमैटिक टूल है जो चेक के जरिये धोखाधड़ी करने पर लगाम लगाएगा। इस व्यवस्था में जो व्यक्ति चेक जारी करेगा, उन्हें इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से चेक की तारीख, लाभार्थी का नाम, प्राप्तकर्ता और पेमेंट की रकम के बारे में दोबारा जानकारी देनी होगी. चेक जारी करने वाला व्यक्ति यह जानकरी SMS, मोबाइल ऐप, इंटरनेट बैंकिंग या एटीएम जैसे इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से दे सकता है. इसके बाद चेक पेमेंट से पहले इन जानकारियों को क्रॉस-चेक किया जाएगा. अगर इसमें कोई गड़बड़ी पाई जाएगी चेक से भुगतान नहीं किया जाएगा। इससे बैंकिंग फ्रॉड को रोका जाएगा.

UPI पेमेंट पर देना होगा एक्सट्रा चार्ज

NPCI ने थर्ड पार्टी ऐप प्रोवाइडर्स द्वारा UPI ट्रांजैक्शन के कुल वॉल्यूम पर 30% फीसदी की सीमा लगाई है. यह सीमा 1 जनवरी से लागू हो जाएगी। यानी नए साल में अमेजन पे, गूगल पे और फोन पे से ट्रांजैक्शन करने पर एक्सट्रा चार्ज देना पड़ सकता है. थर्ड पार्टी ऐप प्रोवाइडर्स की ओर से चलाई जाने वाली UPI पेमेंट सर्विस पर अतिरिक्त चार्ज लगाने का निर्णय लिया है. 30 फीसदी की सीमा को पिछले तीन महीने के दौरान UPI में प्रोसेस्ड ट्रांजैक्शन के कुल वॉल्यूम के आधार पर कैलकुलेट किया जाएगा.

कॉन्टैक्सलेस कार्ड पेमेंट की सीमा बढ़ी

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने कॉन्टैक्सलेस कार्ड पेमेंट की सीमा नए साल में बढ़ाने की घोषणा की है. इसके तहत ग्राहक 01 जनवरी से 2000 रुपए के बदले 5000 रुपए तक का कॉन्टैक्सलेस कार्ड पेमेंट एक बार में कर सकेंगे. हालांकि, कॉन्टैक्सलेस कार्ड पेमेंट करने का फैसला यूजर्स पर छोड़ा गया है कि वे इसका इस्तेमाल करना चाहते हैं या नहीं। इससे कोविड-19 के समय में सुरक्षित तरीके के पेमेंट करने में मदद मिलेगी.

GST ई-इनवॉइसिंग में बदलाव

सालाना पांच करोड़ रुपये तक का कारोबार करने वाले छोटे कारोबारियों को अगले 1 जनवरी से वर्ष के दौरान सिर्फ 4 सेल्स रिटर्न फाइल करने होंगे. अभी कारोबारियों को महीने के आधार पर 12 रिटर्न (GSTR 3B) दाखिल करने होते हैं. इससे 94 छोटे बिजनेस को बड़ी राहत मिलेगी। नया नियम लागू होने के बाद टैक्सपेयर्स को केवल 8 रिटर्न भरने होंगे. इनमें 4 GSTR 3B और 4 GSTR 1 रिटर्न भरना होगा. इसके साथ ही GST के ई-इनवॉइसिंग सिस्टम में भी 1 जनवरी से बिजनेस टू बिजनेस ट्रांजेक्शन में 100 करोड़ रुपए से अधिक के टर्नओवर पर ई-इनवॉयस जरुरी होगा। यह सिस्टम फिजिकल इनवॉयस की जगह लेगा.

वाहनों के लिए फास्टैग जरुरी

1 जनवरी, 2021 से सभी वाहनों के लिए टोल प्लाजा क्रॉस करने के लिए फास्टैग (fastag) अनिवार्य होगा. यह नियम पुराने वाहनों के लिए भी अनिवार्य होगा। किसी भी टोल प्लाजा पर कैश में टोल टैक्स नहीं वसूला जाएगा. बिना फास्टैग के नेशनल हाईवे टोल पार करने वाले चालकों को दोगुना चार्ज देना होगा। फिलहाल सभी टोल प्लाजा पर 80 परसेंट लाइनों को फास्टैग और 20 परसेंट लाइनों को कैश में इस्तेमाल किया जा रहा है. लेकिन 1 जनवरी से सभी लाइनें फास्टैग हो जाएंगी. फास्टैग अकाउंट में कम से कम 150 रुपये की राशि रखनी जरूरी होगी, नहीं तो फास्टैग को ब्लैक लिस्ट कर दिया जाएगा। परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के अनुसार किसी भी वाहन के फिटनेस सर्टिफिकेट का रिन्युअल, वाहन पर फास्टैग लगे होने के बाद ही हो सकेगा.

सरल जीवन बीमा

IRDAI ने सभी बीमा कंपनियां को 1 जनवरी से उपभोक्ताओं के लिए सरल जीवन बीमा (Standard term life insurance Policy) लॉन्च करने का निर्देश दिया है। यह योजना एक स्टैंडर्ड टर्म इंश्योरेंस होगी. इससे ग्राहकों को कंपनियों की ओर से पहले से दी गई जानकारियों के आधार पर फैसला लेने में मदद मिलेगी. वहीं नया कारोबार शुरू करने वाली सभी बीमा कंपनियों को भी 1 जनवरी से स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस प्रॉडक्ट्स लाना जरूरी होगा. सरल जीवन बीमा की पॉलिसी 18 से 65 साल के लोग खरीद सकेंगे, जिसमें 5 लाख से 25 लाख रुपये तक की स्कीम होगी.

कॉल करने पर लागू होगा नया नियम

15 जनवरी, 2021 से फिक्स्ड फोन यानी लैंडलाइन से मोबाइल पर की जाने वाली हर कॉल के लिए मोबाइल नंबर से पहले जीरो लगाना जरूरी होगा. लैंडलाइन से लैंडलाइन, मोबाइल से लैंडलाइन और मोबाइल से मोबाइल पर कॉल करने के लिए डायलिंग प्लान में कोई बदलाव नहीं होगा. टेलीकॉम मंत्रालय ने सभी टेलीकॉम ऑपरेटर्स को 1 जनवरी से इस सिस्टम के लिए जरूरी इंफ्रास्ट्रक्चर पर काम करने का निर्देश दिया है.

महंगी हो जाएंगी कारें और टू-व्हीलर्स

टू-व्हीलर्स और कारों के दाम भी 1 जनवरी, 2021 से बढ़ जाएंगे. कार और टूव्हीलर के दामों में 5 फीसदी तक का इजाफा हो सकता है. मारुति सुजुकी, फोर्ड, महिंद्रा एंड महिंद्रा और होंडा सहति कई कार और बाइक बनाने वाली कंपनियों ने नए साल में कारों और बाइक्स की कीमत बढ़ाने का ऐलान किया है.