Home देश शर्मनाक: इंसानियत पर भारी पड़ा पैसा, बकाया भुगतान के लिए अस्पताल ने...

शर्मनाक: इंसानियत पर भारी पड़ा पैसा, बकाया भुगतान के लिए अस्पताल ने प्रसूता को बना लिया बंधक

97
0
संवाददाता
मेरठ, 10 सितंबर। प्रसव के लिए निजी अस्पताल में भर्ती एक महिला को बिल का बकाया भुगतान न करने तक अस्पताल प्रबंधन ने बंधक बना लिया। जबकि प्रसव के दौरान महिला के नवजात बच्चे की मौत हो चुकी थी। इंसानियत को शर्मशार करने वाली यह घटना यूपी में मेरठ के गौहर हॉस्पिटल में  सामने आई। जानकारी के अनुसार, उक्त अस्पताल में एक गर्भवती महिला की डिलीवरी के दौरान बच्चे की मौत हो गई, लेकिन अस्पताल प्रबंधन ने  उसके बाद मां को बंधक बना लिया। मामला यह है कि 8 सितंबर को खरखौदा क्षेत्र के पीपलखेड़ा गांव के निवासी मुबारिक ने अपनी पत्नी गुलशन को प्रसव पीड़ा होने पर शहर के गौहर हॉस्पिटल में भर्ती कराया। वहां डिलीवरी के समय नवजात की मौत हो गई। पीड़ित महिला के परिवार का आरोप है कि डॉक्टर के बजाय स्टाफ नर्स से डिलीवरी कराई गई और बच्चे की मौत हो गई लेकिन परिवार वालों की कोई बात नहीं सुनी गई। आखिर थक हार कर परिवार वालों ने गुलशन को डिस्चार्ज करने के लिए कहा तो अस्पताल प्रशासन ने 20 हजार का बिल थमा दिया और यह भी शर्त रखी कि जब तक बिल नहीं जमा होगा तब तक नवजात की मां गुलशन हॉस्पिटल में बंधक रहेगी।

 अस्पताल प्रबंधन की यह बात सुनकर बदहवास गुलशन की मां यानी नवजात की नानी मृत शव को गोद में लेकर कमिश्नर चौराहा पहुंच गई। रो-रोकर बेहाल बुजुर्ग महिला ने वहां पर उपस्थित अधिकारियों से अपनी समस्या बताई तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। हालांकि बाद में अधिकारियों ने कार्रवाई करते हुए महिला को डिस्चार्ज कराया और अस्पताल को नोटिस दिया जिस पर जांच भी शुरू कर दी गई है।