Home उत्तराखंड जय गंगा मैय्या: माघ स्नान से पूर्व हरिद्वार में उमड़ा श्रद्धालुओं का...

जय गंगा मैय्या: माघ स्नान से पूर्व हरिद्वार में उमड़ा श्रद्धालुओं का सैलाब

179
0

संवाददाता

हरिद्वार, 26 फरवरी।

आईजी कुंभ मेला संजय गुंज्याल ने कुम्भ मेला पुलिस एवं जनपद हरिद्वार के पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों द्वारा शनिवार को माघ पूर्णिमा स्नान पर्व ड्यूटी में नियुक्त पुलिस/अर्द्धसैनिक बलों के अधिकारी-कर्मचारियों की ब्रीफिंग की गई।

प्रकाश देवली पुलिस उपाधीक्षक यातायात कुम्भ मेला के द्वारा माघ पूर्णिमा स्नान पर्व पर लागू ट्रैफिक प्लान के बारे में समझाते हुए बताया गया कि सभी लोग अच्छे से ट्रैफिक प्लान को जान लें और अपनी-अपनी ड्यूटी की जगह पर ट्रैफिक प्लान के तहत ही कार्यवाही करें अलग से कोई डायवर्जन या अन्य व्यवस्था लागूं न करें। एसएसपी हरिद्वार सैंथिल अबुदाई कृष्ण राज एस के द्वारा कहा गया कि ये सोच कर ड्यूटी में ढिलाई न बरतें कि पिछले 03 स्नान सकुशल सम्पन्न हो गए है तो ये स्नान भी बिना किसी परेशानी के संम्पन हो जाएगा। जरा सी ढिलाई भी समस्या पैदा कर सकती है। एसएसपी कुम्भ जन्मजेय खंडूरी द्वारा बताया गया कि इस स्नान पर्व पर पिछले 03 स्नानों से ज्यादा श्रद्धालुओं के आने की संभावना है क्योंकि मौसम में अच्छी-खासी गर्मी बढ़ चुकी है, इसके अलावा स्नान पर्व और वीकेंड दोनो एक साथ होने से श्रद्धालुओं और पर्यटकों की समिल्लित भीड़ आने की भी संभावना है। इसलिए इस स्नान को पिछले स्नानों में आई भीड़ के हिसाब से हल्का न समझें।

इसके अलावा इस स्नान को 11 मार्च, 2021 के शिवरात्रि के शाही स्नान पर्व की रिहर्सल मानते हुए हर की पैड़ी के अलावा अन्य घाटों पर भी श्रद्धालुओं को स्नान कराएं, क्योंकि शाही स्नान के अवसर पर हर की पैड़ी पर मुख्यतः अखाड़ों का ही स्नान होता है। इसलिए इस स्नान पर श्रद्धालुओं को अन्य घाटों पर स्नान करने को प्रोत्साहित करें। श्री खंडूरी द्वारा बम निरोधक दस्तों को निर्देशित किया कि पहले से ज्यादा भीड़ को ध्यान में रखते हुए ज्यादा सतर्कता से और लगातार एन्टीसेबोटाज चेकिंग करें। कुम्भ मेला अग्निशमन अधिकारी घाटों आदि पर लगे अग्निशमन उपकरणों की स्थिति को चेक करके हर प्रकार की परिस्थितियों से निबटने को तैयार रहें।

जिलाधिकारी हरिद्वार सी रवि शंकर द्वारा ब्रीफ किया गया कि अभी तक हुए स्नानों ने हमें बड़े शाही स्नानों को कराने के अभ्यास का मौका दिया है। भारत के कई राज्यों में कोरोना का नया स्ट्रेन आ चुका है और अपना असर भी दिखा रहा है। इसलिए जनता को सुरक्षित रहने की सलाह देने से पहले जरूरी है कि खुद कोरोना से सम्बंधित सुरक्षा उपाय करें और वेक्सिनेशन जरूर करवा लें।

आईजी कुम्भ संजय गुंज्याल द्वारा वर्तमान में कुम्भ में नियुक्त विभिन्न अर्धसैनिक बलों की सतर्कता और निष्ठा से ड्यूटी करने के तरीके की प्रशंसा की और उनके द्वारा कुम्भ के दौरान उत्तराखंड पुलिस को ड्यूटी के रूप में दिए जा रहे सहयोग के लिए धन्यवाद भी दिया। कहा कि लगभग सभी अखाड़ों की पेशवाई सज चुकी है।चूंकि माघ पूर्णिमा से कुम्भ का आरम्भ माना जाता है और यह स्नान सूर्योदय से पहले करने की मान्यता है, इसलिए आज शाम से ही ड्यूटी को गम्भीरता और सजगता के साथ करना शुरू करें। कहा कि घाटों पर कोई कर्मकांड न होने दें, सभी रास्ते और घाट अतिक्रमण और भिखारी मुक्त रखें। आप यदि अपनी ड्यूटी अच्छे से करके श्रद्धालुओं को सकुशल स्नान कराकर वापस भेजते हैं तो आपको स्वतः गंगा स्नान का पुण्य प्राप्त हो जाता है।