Home उत्तराखंड कोविड-19: अब कांग्रेस के पूर्व मंत्री सुरेंद्र सिंह नेगी  हुए संक्रमण के...

कोविड-19: अब कांग्रेस के पूर्व मंत्री सुरेंद्र सिंह नेगी  हुए संक्रमण के शिकार, दून में हो रहा है इलाज

31
0

संंवाददाता
देहरादून, 30 मार्च।

उत्तराखंड में कोरोना वायरस की चपेट में आने वाले  राजनेताओं की सूची में अब एक और नाम जुड़ गया है। कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव एवं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के बाद पार्टी के दिग्गज  नेता एवं पूर्व मंत्री सुरेंद्र सिंह नेगी भी कोरोना संक्रमण का शिकार हो गए हैं। मंगलवार को स्वयं उन्होंने सोशल मीडिया में पोस्ट डालकर यह जानकारी दी। हैरानी की बात यह है कि  कोरोना का वैक्सीन लगवाने के बावजूद  पूर्व मंत्री नेगी की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है । गौरतलब है कि इससे पहले कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव एवं उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत भी कोरोना का वैक्सीन लगवाने के बाद संक्रमित हुए थे।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि वैक्सीन लगाने के बाद एंटीबॉडी बनने में तीन माह लगते हैं। ऐसे में टीकाकरण के बाद भी मास्क लगाने के साथ ही कोरोना के नियमों का पालन जरूरी है।
21 व 22 मार्च को कांग्रेस नेता हरीश रावत कोटद्वार गए थे। सुरेंद्र सिंह नेगी के मुताबिक उनके कार्यक्रमों में वह भी सम्मिलित हुए थे। 24 मार्च को हरीश रावत के कारोना पॉजिटिव आने पर उन्होंने भी पत्नी हेमलता नेगी व साथियों के साथ कोरोना का टेस्ट करवाया। इसमें सभी की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आई। नेगी के मुताबिक, इसके बाद उन्होंने कोरोना की वैक्सीन लगवाई। वैक्सीन लगाने के बाद उन्हें बुखार आ गया। जैसा कि डॉक्टर बता रहे हैं कि वैक्सीन लगाने से कई व्यक्तियों को बुखार आ रहा है। चार-पांच दिन तक उन्हें बुखार रहा। इस पर उन्होंने कल 29 मार्च को सोचा कि एक बार फिर अपना व पत्नी का कोरोना टेस्ट करवा लूं। लेकिन इस बार उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव तथा पत्नी हेमलता नेगी की नेगेटिव आई।
सुरेंद्र सिंह नेगी के मुताबिक सर्वप्रथम उन्होंने कोटद्वार चिकित्सालय में उपचार करवाया. इसके बाद उन्हें हाय सेंटर रेफर किया गया है। अब वे देहरादून में अपना इलाज करवा रहे हैं और पहले से स्वस्थ हैं। उन्होंने लोगों से अनुरोध किया कि इस बीच में जो भी उनके संपर्क में आए हैं, वह अपना कोरोना टेस्ट अवश्य करवा लें। साथ ही लिखा है ‘…अभी चिकित्सा परामर्श के कारण फोन पर समय देना संभव नहीं हो पा रहा है। आप सभी की सद्भावना मेरे साथ है। मैं शीघ्र ही स्वस्थ होकर आप लोगों के बीच में होगा।’