Home उत्तराखंड कावड़ मेला: प्रतिबंध को लेकर इंटर स्टेट बॉर्डर मीटिंग, परस्पर समन्वय पर...

कावड़ मेला: प्रतिबंध को लेकर इंटर स्टेट बॉर्डर मीटिंग, परस्पर समन्वय पर विचार विमर्श

142
0

उत्तराखण्ड सहित अन्य राज्यों के पुलिस व प्रसाशनिक अधिकारी रहे मौजूद

संवाददाता
हरिद्वार, 20 जुलाई। 

उत्तराखंड शासन द्वारा कोविड 19 की तीसरी लहर के बचाव के दृष्टिगत कावड़ मेला 2021 को प्रतिबंधित किया गया है जिस हेतु  आज सीसीआर भवन में उत्तराखंड व अन्य राज्यों के पुलिस एवं प्रसाशन के अधिकारियों की पुलिस महानिरीक्षक अपराध एव कानून व्यवस्था  वी. मुरुगेशन  की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। मंच का संचालन प्रदीप राय पुलिस अधीक्षक अपराध एवं ट्रैफिक द्वारा किया गया सर्वप्रथम वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा बाहरी राज्यों से मीटिंग में आये पुलिस एंव प्रशासन के अधिकारियों का स्वागत किया गया। तत्पश्चात कोविड -19 की तीसरी लहर को देखते हुए कांवड मेला 2021 को प्रतिबन्धित किये जाने के सम्बन्ध में  महत्वपूर्ण बातों पर विचार विमर्श किया गया।

कावड़ लेने हेतु हरिद्वार आने वाले कावड़ियों को अपने अपने राज्यों में भली भांति ब्रीफ करते हुए रोकने हेतु कहा गया साथ ही अपने अपने सीमावर्ती बॉर्डरों पर पर्याप्त मात्रा में पुलिस एव प्रसाशन के अधिकारी एवं कर्मचारियों को नियुक्त किया जाए जिससे की कोई भी शिवभक्त कांवड लेने हेतु हरिद्वार में प्रवेश न करें साथ ही जिन शिव भक्तों द्वारा नियमों /आदेशों का उल्लंघन किया जाता है तो उसके विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही अमल में लाई जाए।अगर कोई शिव भक्त /कांवड़िये हरिद्वार आते हैं तो उनको 14 दिवस हरिद्वार में क्वॉरेंटाइन रहना पड़ेगा।

सभी उपस्थित अधिकारीगण अपने अपने राज्यों में भिन्न भिन्न माध्यमों से प्रचार प्रसार करें कि कावड़ मेला 2021 उत्तराखंड सरकार द्वारा पूर्ण रूप से प्रतिबंधित किया है। साथ ही बैठक में रेलवे के अधिकारियों को भी अवगत कराया गया कि वह भी रेलवे स्टेशन एवं अन्य माध्यमों से भी जनहित में अधिक से अधिक प्रचार प्रसार करें जिससे कि भारत के कोने कोने से आने वाले शिव भक्तों को जानकारी मिल सके। साथ ही बोर्डरों पर एसपीओ की तैनाती भी की जाये। अगर बोर्डर पर कोई शिव भक्त जानकारी के आभाव में आ जाते हैं  तो उनके साथ दुर्व्यवहार न करते हुए उन्हें भली भांति समझाकर वापस किया जाये। उपस्थित अधिकारियों द्वारा अवगत कराया गया कि राज्यों के बोर्डरों पर पर्याप्त मात्रा में पुलिस बल नियुक्त किया जाये, जिससे किसी भी प्रकार से शान्ति व्यवस्था प्रभावित न हो पाये।  आयोजित समन्वय बैठक में सभी राज्यों के पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारियों द्वारा उत्तराखंड शासन के आदेश कावड़ मेला 2021 प्रतिबंध का स्वागत करते हुए हरिद्वार पुलिस एवं प्रशासन को पूरा सहयोग देने पर सहमति दी गई। साथ ही यह भी अवगत कराया गया कि समस्त बॉर्डर पर राजपत्रित अधिकारियों की भी नियुक्ति की जाएगी जिससे  किसी प्रकार से शांति व्यवस्था प्रभावित होने पर सम्बन्धितों के विरुद्ध तत्काल मौके पर आदेश प्राप्त कर आवश्यक वैधानिक कार्यवाही अमल में लाई जा सके। बैठक में उत्तराखण्ड एवं अन्य राज्यों से उपस्थित पुलिस एवं प्रशासन के निम्नअधिकारियों द्वारा प्रतिभाग किया गया।

डॉ निलेश भरणे, डीआईजी एलओ उत्तराखंड, डॉ मन्जूनाथ, एसपी रेलवे उत्तराखंड, स्वप्न किशोर सिंह, एसपी ट्रेफिक देहरादून , मनोज कत्याल, एडीसनल एसपी जीआरपी , पूजा वशिष्ट, अपर पुलिस अधीक्षक पानीपत, विवेक कुमार, एडीएम सहारनपुर, सुमित सिंह एसडीएम करनाल, पंकज गेरोला, सीओ मंगलौर, विवेक कुमार, सीओ लक्सर ,राकेश रावत सीओ बुग्गावाला, हंसराज, सीओ सोनीपत हरियाणा, वीर बहादुर, सीओ पोंटा हिमाचल, बिजेन्द्र दत्त डोभाल, सीओ श्यामपुर/ ट्रेफिक, अभय प्रताप सिंह, सीओ सिटी हरिद्वार एवं अन्य पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारीगण उपस्थित रहे ।