Home उत्तराखंड न्याय: लोक अदालत में 837 मामलों का किया निस्तारण

न्याय: लोक अदालत में 837 मामलों का किया निस्तारण

134
0

संवाददाता
देहरादून, 11 जुलाई।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण (डीएलएसए) की ओर से देहरादून, ऋषिकेश, विकासनगर, डोईवाला व चकराता के न्यायालयों में आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत में 837 मामलों का निस्तारण किया गया। इस दौरान छह करोड़ 91 लाख 26 हजार रुपये पर समझौता हुआ।
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव व सिविल जज नेहा कुशवाहा ने बताया कि शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन वर्चुअल माध्यम से किया गया। मोटर दुर्घटना क्लेम, पुलिस एक्ट, वन संबंधित मामले, घरेलू ङ्क्षहसा, सिविल, पारिवारिक, चेक बाउंस फौजदारी से संबंधित मामले एवं अन्य सभी ऐसे प्रवृति के वाद जिनमें समझौता किया जा सकता था, राष्ट्रीय लोक अदालत में रखे गए।उन्होंने बताया कि मोटर दुर्घटना प्रतिकर वाद में 39 वादों निस्तारण किया गया। इसमें चार लाख 89 हजार, 8600 रुपये की धनराशि प्रतिकर के रूप में दिलाई गई। सबसे अधिक वाद तृतीय अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश की ओर से निस्तारित किए गए। इसके अलावा एनआइ एक्ट में 307, ऋण वसूली के 36, फौजदारी के 375, वैवाहिक के 12, दीवानी मामलों के 51 व बिजली व पानी बिल के 17 वादों का निस्तारण किया गया। वादों के निस्तारण के लिए 19 पीठों का गठन किया गया था। सचिव ने बताया कि लोक अदालत में 42 प्री लिटिगेशन मामलों का निस्तारण आपसी समझौते के आधार पर किया गया व 31 लाख, 09 हजार, 742 राशि की रिकवरी की गई।