Home उत्तराखंड सम्मानः एसएसपी रावत ने दी ‘मेडिसिन मैन’ मनीष को शुभकामनाएं

सम्मानः एसएसपी रावत ने दी ‘मेडिसिन मैन’ मनीष को शुभकामनाएं

38
0

संवाददाता
देहरादून, 8 जनवरी।

कोरेाना काल में जरूरतमंद लोगों तक जीवन रक्षक दवाईयां पहुंचाने के लिए ऑपरेशन संजीवनी शुरू करने वाले मनीष प्रसाद पंत को एसएसपी योगेंद्र रावत ने आज अपनी शुभकामनाएं देते हुए सम्मानित किया। मनीष प्रसाद पंत वर्तमान में फायर स्टेशन देहरादून में नियुत्तफ़ हैं।
फायरमैन मनीष प्रसाद पंत द्वारा किये गये सराहनीय कार्यों के लिये उन्हें राष्ट्रीय तथा अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर सम्मानित किया गया है। एसएसपी ने फायरमैन मनीष से भविष्य भी इसी तत्परता से आम जन-मानस की सहायता करने की अपेक्षा की। फायरमैन मनीष प्रसाद पन्त के अनुसार 22 मार्च 2020 को जनता कफ्रर्यू के दिन देहरादून में रहने वाली एक महिला का बीपी अचानक बढ़ जाने से उनके परिजनों का फोन आने पर उनके द्वारा उत्तफ़ महिला को दवाई पहुंचाई गई। इसके बाद उन्हें ऐसा लगा कि कई ऐसे लोग होगें, जिन्हें दवाईयां की आवश्यकता होगी तथा उनके परिजन उनके पास नहीं होगें तथा लॉकडाउन की स्थिति में उनका बाहर निकलना सुरक्षित नहीं है।
जिसके बाद उन्होंने 23 मार्च 2020 को फेसबुक के माध्यम से ऑपरेशन संजीवनी प्रारम्भ किया गया। जिसके अन्तर्गत अनुरोध किया गया कि जिन लोगों को दवाईयों की आवश्यकता है, वह लोग उन्हें मैसेज के माध्यम से अवगत करा सकते हैं। उनकी उत्तफ़ पोस्ट वायरल हुई तथा इसे 530 से अधिक बार शेयर किया गया एवं लोगों के मैसेज आने प्रारम्भ हो गये तथा उनके द्वारा लोगों को दवाईयां पहुंचानी प्रारम्भ की गई। देहरादून शहर के अन्तर्गत दवाईयां पहुंचाना कोई मुश्किल कार्य नहीं था परन्तु देहरादून के दूरस्थ पहाड़ी क्षेत्रें तक दवाईयां पहुंचाना चुनौती पूर्ण था। जिसमें उच्चाधिकारियों से अनुमति के पश्चात सरकारी वाहन से स्वयं दवाईयां पहुंचाई गई।
इस दौरान मनीष प्रसाद द्वारा प्रथमतः अपनी धनराशि से ही दवाईयां ऽरीदी गई। धन की व्यवस्था कोई अवरोध न बने इसके लिए इनके द्वारा अपनी एलआईसी एवं यूलिप पॉलिसी की किश्तें भी नहीं भरी गई तथा 01 मई को होने वाले स्वयं के विवाह को भी अग्रिम तिथियों तक टाल दिया गया। इस दौरान उनके द्वारा देहरादून निवासी लोगों को अपने निजी वाहन से 05 बार डायलसिस हेतु भी हॉस्पिटल लाया-ले जाया गया।
अन्य जनपदों के व्यत्तिफ़यों द्वारा दवाईयां पहुंचाने के अनुरोध पर लाकडाउन की स्थित में अन्य जनपदों तक दवाईयां पहुंचाने के लिए दवाइंयो को एकत्र कर प्रेस, राशन के वाहन एवं जो व्यत्तिफ़ पास लेकर जा रहे थे, उनसे दवाईयों को भिजवाने का कार्य प्रारम्भ किया गया। जनपदों में नियुत्तफ़ अन्य पुलिसकर्मियों का सहयोग लिया गया। 23 मार्च 2020 से प्रारम्भ इस आपरेशन ने तब तक कोई विराम नहीं लिया जब तक सार्वजनिक वाहन चलने प्रारम्भ नहीं हो गये। इस कार्य में उच्चाधिकारियों, प्रेस, आवश्यक सामग्री के वाहनों एवं विभिन्न जनपदों में नियुत्तफ़ पुलिस कर्मियों का पूर्ण सहयोग रहा है। अभी तक उत्तफ़ फायरमेैन द्वारा उत्तराऽण्ड के विभिन्न जनपदों के 120 से अधिक लोगों तक दवाइयों को पहुंचाया गया है एवं मीडिया द्वारा उन्हे मेडिसिन मैन कहा जा रहा है। भारत सरकार द्वारा भी ट्विटर के माध्यम से इस कार्य की सराहना की गई है। फायरमैन मनीष पन्त को राष्ट्रीय स्तर पर राइज इण्डिया अवार्ड मिल चुका है एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ‘शाइनिंग वर्ल्ड केयर अवार्ड’ से सम्मानित किया गया है।