Home Home साप्ताहिक राशिफल: जानिए, क्या कहते हैं इस सप्ताह आपके भाग्य के सितारे

साप्ताहिक राशिफल: जानिए, क्या कहते हैं इस सप्ताह आपके भाग्य के सितारे

171
0

मेष राशि (6 सितंबर से 12 सितंबर तक)

अगर आप इस सप्ताह किसी भूमि संबंधी खरीदारी की योजना बना रहे है तो उस को अंजाम देने का उचित समय है। परंतु योजना में किसी वरिष्ठ व्यक्ति की सलाह अवश्य लें। संतान के कैरियर संबंधी भी कोई शुभ समाचार मिल सकता है। कोई नजदीकी मित्र या रिश्तेदार आप के खिलाफ बाहर के अन्य लोगों में कुछ अफवाह फैला सकता है। इसलिए बेहतर होगा कि अपनी योजनाएं अपने घर तक ही सीमित रखें।

वृषभ राशि (6 सितंबर से 12 सितंबर)

अगर आप कुछ समय से अपने स्थान परिवर्तन की योजना बना रहे हैं या किसी प्रॉपर्टी से संबंधित कार्य करने की योजना बना रहे हो तो एक बार सम्यक रूप से मंथन कर ले ,क्योंकि समय अनुकूल नहीं है । आपको कार्यों में सफलता प्राप्त होगी संतान की तरफ से भी किसी शुभ समाचार की प्राप्ति हो सकती है। कुछ महत्वपूर्ण कार्य भी हाथ से निकल सकते हैं । इन बातों का विशेष ध्यान रखें साथ ही अपने भाइयों के साथ संबंध मधुर बनाकर रखें।

मिथुन राशि (6 सितंबर से 12 सितंबर तक)

वरिष्ठ लोगों से लाभदायक संपर्क बनेंगे जिससे आपकी वैचारिक शैली में नयापन आएगा तथा लंबे समय से जो चिंता चल रही है। वह भी समाप्त होगी इस समय आर्थिक हालात भी आपके पक्ष में रहेंगे। उनका फायदा उठाएं किसी व्यक्ति पर आप का बहुत अधिक भरोसा करना भी नुकसानदायक हो सकता है। आपकी कुछ उम्मीदें टूटने से मन आहत हो सकता है। क्योंकि उस व्यक्ति द्वारा समाज में आपकी व्यर्थ की आलोचना की संभावना है।

कर्क राशि (6 सितंबर से 12 सितंबर तक)

परिवार व रिश्तेदारों के साथ संबंध सौहार्दपूर्ण बनने में आप कुछ महत्वपूर्ण निर्णय लेंगे। विचारों का आदान-प्रदान किसी नई दिशा का सुझाव दे सकती है। कोई आपकी भावनाओं का गलत फायदा उठा सकता है। इसी वजह से इस सप्ताह आपका मन व्यथित रहेगा।

सिंह राशि (6 सितंबर से 12 सितंबर तक)

आज परिवार और फाइनेंस से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण निर्णयों के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। किसी मित्र से किसी प्रकार की कहासुनी हो सकती है। आपकी भावुकता और उदारता का भी कोई फायदा उठा सकता है। इसलिए किसी की बात पर विश्वास करने से पहले उसकी जांच पड़ताल अवश्य करें।

कन्या राशि (6 सितंबर से 12 सितंबर तक)

इस सप्ताह आर्थिक तथा जमीन जायदाद संबंधी कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। अपनी क्षमता के अनुसार कार्य को अंजाम देने से प्रसन्नता बनी रहेगी। मित्रों के साथ भी मुलाकात होगी किसी मित्र से कोई तकरार भी हो सकता है। अपने स्वभाव पर नियंत्रण रखें क्योंकि कभी-कभी आपकी अधिकार पूर्ण वाणी दूसरों को आहत कर देती है।

तुला राशि (6 सितंबर से 12 सितंबर तक)

यह सप्ताह आपकी मेहनत और परिश्रम का लाभ दिलाएगा। जिससे आप मन में काफी हल्का सा महसूस करेंगे तथा अपनी योग्यता व क्षमता पर भी आपको गर्व होगा। किसी शुभ समाचार की प्राप्ति भी खुशी दे सकती हैं ।आप सफलता के लिए किसी हद तक भी जाने को तैयार हो जाएंगे। समय और स्थिति का पूरा ध्यान रखें।

वृश्चिक राशि (6 सितंबर से 12 सितंबर तक)

इस सप्ताह आप उत्साह से परिपूर्ण रहेंगे। घर में मेहमानों के आगमन से खुशी बनी रहेगी। खर्चे के मामले में ज्यादा दरियादिली ना रखें। अन्यथा बजट बिगड़ने के योग बन सकते हैं। घर में किसी वरिष्ठ व्यक्ति के स्वास्थ्य में गिरावट आने से कुछ तनाव हो सकता है।

धनराशि (6 सितंबर से 12 सितंबर तक )

इस सप्ताह आपके भाग्योदय हो सकता है। किसी भी फोन कॉल को नजरअंदाज ना करें। जिससे आपको मार्केटिंग या मीडिया से संबंधित कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिलती है। जो आपकी आर्थिक स्थिति के लिए बहुत ही उपयोगी साबित होगी। किसी दोस्त या रिश्तेदार का अपने वादे से पलट जाना, आपको कुछ टेंशन दे सकता है। जिससे आपकी कुछ भविष्य की योजनाएं अधर में लटक जाएगी।

मकर राशि (6 सितंबर से 12 सितंबर तक)

इस सप्ताह किसी महत्वपूर्ण योजना की रूपरेखा बनाकर उस पर अमल करें। सफलता अवश्य मिलेगी साथ ही प्रशंसा के पात्र भी बन सकते हैं। समय और भाग्य आपके पक्ष में हैं। इसका सदुपयोग करें। कभी-कभी लापरवाही और आलस की स्थिति उत्पन्न होने से आप अपने कार्य से ध्यान हटा सकते हैं। संकीर्ण विचारों को अपने ऊपर हावी न होने दें मुश्किल आने पर घर के किसी वरिष्ठ व्यक्ति का सहयोग अवश्य लें।

कुंभ राशि (6 सितंबर से 12 सितंबर तक)

यह सप्ताह धार्मिक कार्यो से ओतप्रोत रहेगा। किसी शुभचिंतक की प्रेरणा व आशीर्वाद से आपको महसूस होगा कि मानव जीवन का सच अर्थ क्या है और अपना समय दूसरे की मदद ले लगाएं। जिससे आपको हार्दिक खुशी प्राप्त होगी। इस सप्ताह आपको किसी बड़ी उपलब्धि मिलने का भी योग हैं।

मीन राशि (6 सितंबर से 12 सितंबर तक)

आर्थिक निवेश के मामलों में विशेष ध्यान केंद्रित करें। क्योंकि लाभदायक परिस्थितियां बन रही हैं। साथ ही आप अपनी कार्य योजनाओं की प्रणाली में जो परिवर्तन ला रहे हैं। वह भी आपके लिए लाभदायक साबित होने वाला है।