Saturday, October 16, 2021
Home स्वास्थ्य एम्स: क्लिनिकल न्यूरोएनाटॉमी के पहले दक्षिण एशियाई संस्करण का विमोचन 

एम्स: क्लिनिकल न्यूरोएनाटॉमी के पहले दक्षिण एशियाई संस्करण का विमोचन 

निदेशक प्रो राजवंशी ने की पुस्तक के लेखक डॉ. कुमार सतीश रवि के प्रयासों की सराहना
सत्येंद्र सिंह चौहान
ऋषिकेश, 24 सितंबर। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान,एम्स ऋषिकेश के निदेशक प्रोफेसर अरविन्द राजवंशी  ने ’स्नेल’ के क्लिनिकल न्यूरोएनाटॉमी के पहले दक्षिण एशियाई संस्करण की पुस्तक का विमोचन किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि यह एम्स ऋषिकेश के लिए गर्व की बात है कि विश्व स्तर पर पढ़ी जाने वाली पुस्तक का संपादन एम्स ऋषिकेश की फैकल्टी द्वारा किया गया है।
संस्थान में आयोजित एक सादे कार्यक्रम के दौरान एनाटॉमी विभाग की फैकल्टी एडिशल प्रोफेसर डॉ. कुमार सतीश रवि  द्वारा लिखी गई पुस्तक ’स्नेल क्लीनिकल न्यूरोएनाटॉमी’ का संस्थान के निदेशक प्रोफेसर राजवंशी द्वारा विमोचन किया गया। विश्व स्तर पर पढ़ी जाने वाली इस पुस्तक लिए उन्होंने लेखक डॉ. कुमार सतीश रवि  के प्रयासों के लिए उन्हें बधाई दी।                     
 निदेशक एम्स प्रो. राजवंशी ने यह जानकर प्रसन्नता व्यक्त की, कि डॉ. रवि नेशनल जर्नल ऑफ क्लिनिकल एनाटॉमी के प्रधान संपादक के रूप में भी कार्य करते हैं। विमोचन कार्यक्रम के दौरान प्रोफेसर राजवंशी ने कहा कि यह पहला दक्षिण एशियाई संस्करण न केवल मेडिकल छात्रों को बल्कि शरीर रचनाविदों, न्यूरोएनाटोमिस्ट, न्यूरोसाइंटिस्ट, न्यूरोसर्जन, न्यूरोलॉजिस्ट और चिकित्सा विज्ञान के क्षेत्र में कार्य कर रहे समर्पित शिक्षाविदों के लिए भी विशेष लाभकारी साबित होगा। उन्होंने आशा व्यक्त की कि केंद्रीय तंत्रिका तंत्र से संबंधित सभी छात्र और विशेषज्ञ भी इस पुस्तक के अध्ययन से लाभ ले सकेंगे।
इस अवसर पर एनाटॉमी विभाग के एडिशनल प्रोफेसर और पुस्तक के लेखक डॉ. कुमार सतीश रवि  ने बताया कि पुस्तक का यह संस्करण भारतीय चिकित्सा परिषद द्वारा निर्धारित योग्यता आधारित चिकित्सा पाठ्यक्रम के अनुसार अपने संपूर्ण संशोधन द्वारा मूलरूप से लिखे गए अध्यायों के सार को बनाए रखता है। उन्होंने बताया कि देश के प्रख्यात न्यूरो सर्जन प्रोफेसर राजकुमार, एचओडी न्यूरोसर्जरी विभाग संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, यूपीयूएमएस सैफई लखनऊ के पूर्व कुलपति और एम्स ऋषिकेश के पूर्व निदेशक द्वारा पुस्तक की सराहना की गई है। कार्यक्रम के दौरान एचओडी न्यूरोलॉजी विभाग तंत्रिका विज्ञान केन्द्र नई दिल्ली की प्रोफेसर एम.वी. पद्मा श्रीवास्तव ने भी इस पुस्तक को बहुलाभकारी संकलन बताया। डॉ. पद्मा ने कहा कि सक्रिय प्रकाशक और प्रसिद्ध शोधकर्ता डॉ. रवि ने न्यूरोएनाटॉमी की समझ में हाल की सभी प्रगतियों को ध्यान में रखते हुए अपने पिछले संस्करण को बड़ी मेहनत से संशोधित किया है।
इस अवसर पर न्यूरोलॉजी के सहायक प्रोफेसर डॉ. मृत्युंजय ने न्यूरोएनाटॉमी के बाइबिल के संपादन पर डॉ. रवि को बधाई दी। कार्यक्रम के दौरान प्रो. शैलेन्द्र हांडू, प्रो. सत्यश्री, डा. मनु मल्होत्रा, डॉ. सुनीता, डॉ. प्रशांत दुर्गापाल, डॉ. बिश्वजीत, डॉ. भारत भूषण आदि मौजूद थे।
RELATED ARTICLES

पहल: जागरुकता की अलख जगाने निकला एम्स का ’ट्रॉमा रथ’

राज्यभर के मेडिकल कॉलेज और अस्पतालों में पहुंचेंगे ट्रामा विशेषज्ञ सड़क दुर्घटनाओं के दौरान आघात चिकित्सा का देंगे प्रशिक्षण सत्येंद्र सिंह चौहान  ऋषिकेश, 13 अक्टूबर। उत्तराखंड में...

एम्स प्रशासन पर छात्रा को रात नौ बजे हास्टल से निकालने का आरोप, विरोध में प्रदर्शन

ऋषिकेश। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ऋषिकेश में बीएससी एलाइड हेल्थ साइंसेज पाठ्यक्रम में अध्ययनरत एक छात्रा ने एम्स प्रशासन पर बेवजह हास्टल से बाहर...

कोरोना के बीच डेंगू से हुई प्रदेश में पहली मौत

हरिद्वार। प्रदेश अभी कोरोना के बढ़ते प्रकोप से सुधर ही रहा था की डेंगू ने अपनी दस्तक दे दी है। हरिद्वार में डेंगू के...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

माता मंगला के जन्मदिन पर उत्तराखंड को सौगात, सीएम ने किया डायलिसिस केंद्र का लोकार्पण

देहरादून। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने मोहकमपुर में हंस फाउंडेशन डायलिसिस केंद्र का लोकार्पण किया। माता मंगला के जन्मदिन के अवसर पर फाउंडेशन के...

गंगनहर को किया बंद, दीपावली पर छोड़ा जाएगा पानी

हरिद्वार। धर्मनगरी हरिद्वार से कानपुर तक जाने वाली उत्तर प्रदेश सिंचाई विभाग की गंगनहर को बीते रात से बंद कर दिया गया है। अब...

शहीदों के पार्थिव शरीर पहुंचे जॉलीग्रांट एयरपोर्ट, कैबिनेट मंत्री ने दी श्रद्धांजलि

देहरादून। जम्मू-कश्मीर के पुंछ में आतंकी हमले में उत्तराखंड के शहीद जवानों के पार्थिव शरीर हवाई जहाज से जॉलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंच चुके हैं। ऐसे...

भाजपा-कांग्रेस में चुनावी दांवपेंच की राजनीति शुरू

देहरादून। यशपाल आर्य की वापसी के बाद कांग्रेस और भाजपा में चुनावी दावपेंच की राजनीति शुरू हो गयी है। उत्तराखंड में कैबिनेट मंत्री हरक...

आईटीवीपी की पासिंग आउट परेड संपन्न, 38 जांबाज अफसरों ने ली शपथ

देहरादून। भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस अकादमी में 24 सप्ताह के कठोर प्रशिक्षण के बाद 38 असिस्टेंट कमांडेंट मेडिकल ऑफिसर के रूप में भारतीय तिब्बत...

शुभ प्रभात: जानिए, क्या कहते हैं आज़ आपके भाग्य के सितारे

आज़ का राशिफल: शनिवार, 16 अक्टूबर 2021 मेष (Aries)- आज के दिन ऊर्जावान रहते हुए, महत्वपूर्ण कामों में फोकस करें. कार्य में रुकावट मन को विचलित कर...

दशहरा पर हरिद्वार में नागा साधुओं ने किया शस्त्र पूजन

भैरव प्रकाश और सूर्य प्रकाश भालों का हुआ पूजन कुंभ में पेशवाई के आगे रहते हैं देव रूपी दोनों भाले हरिद्वार। आज दशहरा है। दशहरे के...

विसर्जन के साथ दुर्गा महोत्सव का समापन

भाव-विह्वल हुए भक्त अल्मोड़ा। सांस्कृतिक नगरी अल्मोड़ा में दुर्गा महोत्सव का समापन हो गया है। 9 दिनों तक चले दुर्गा महोत्सव के बाद आज भव्य...

पेयजल ठेका कर्मचारियों की हड़ताल से खड़ा हुआ पानी का संकट

सबसे ज्यादा असर कुमांऊ मंडल में देहरादून। नैनीताल में अपनी 5 सूत्री मांगों को लेकर जल संस्थान के ठेका कार्य कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले...

22 नवंबर को बंद होंगे द्वितीय केदार श्री मध्यमहेश्वर के कपाट

तुंगनाथ के कपाट 30 अक्टूबर को होंगे बंद रुद्रप्रयाग। पंच केदारों के कपाट बंद होने की तिथियां घोषित हो गई हैं। द्वितीय केदार श्री मध्यमहेश्वर...