Home उत्तराखंड पहलः दिव्यांग, वंचित वर्ग के बच्चे होंगे वसंतोत्सव के प्रथम दर्शक

पहलः दिव्यांग, वंचित वर्ग के बच्चे होंगे वसंतोत्सव के प्रथम दर्शक

180
0

राजभवन में 13 व 14 मार्च होगा वसन्तोत्सव-2021 का आयोजन
संवाददाता
देहरादून, 11 मार्च ।
राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने गुरूवार को राजभवन में 13 व 14 मार्च, 2021 को आयोजित होने वाली पुष्प प्रदर्शनी वसंतोत्सव-2021 के बारे में बताया कि इन दो दिनों में पुष्प उत्पादकों के लिए कई प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जायेगा।
उन्होंने बताया कि इस वसन्तोत्सव में वृदांवन की फूलों की होली का आयोजन किया जायेगा। इसके साथ ही माह अगस्त-सितम्बर, 2021 में सेब व लीची महोत्सव का आयोजन किया जायेगा। इससे स्थानीय फलोत्पादकों को प्रोत्साहन मिल सके। राज्यपाल ने वसंतोत्सव के प्रचार-प्रसार के लिये पुष्प रथ को भी रवाना किया।


महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर राजभवन में फूलों से शिवलिंग भी बनाया गया था, जिसका राज्यपाल मौर्य द्वारा पूजन अर्चन किया गया। पुष्प प्रदर्शनी का उदघाटन राज्यपाल श्रीमती मौर्य द्वारा 13 मार्च, 2021 को प्रातः 9-30 बजे किया जायेगा। आम जन के लिये प्रदर्शनी दोनो दिन सायं 6 बजे तक खुली रहेगी। 14 मार्च को सायं 4 बजे पुरस्कार वितरण एवं समापन समारोह किया जायेगा।
राज्यपाल मौर्य ने बताया कि इस वर्ष पुष्प प्रदर्शनी में बच्चों की सहभागिता बढ़ाने के लिए विशेष निर्णय लिया गया है। उदघाटन से एक दिन पूर्व शुक्रवार 12 मार्च, 2021 को दोपहर बाद गरीब, दिव्यांग एवं वंचित वर्ग के बच्चों के सहित अन्य बच्चों को विशेष रूप से प्रदर्शनी के लिए आमंत्रित किया जायेगा। ये बच्चे इस पुष्प प्रदर्शनी के प्रथम दर्शक होंगे।


उन्होंने बताया कि राजभवन में वसंत उत्सव की परम्परा 2003 से प्रारम्भ की गई। पुष्प प्रदर्शनी के रूप में शुरू हुआ यह आयोजन दिनोंदिन लोकप्रिय होकर अब एक बड़े सांस्कृतिक व आर्थिक महोत्सव का रूप ले चुका है। देहरादून के लोग हर साल बेसब्री से वसंत उत्सव का इंतजार करते हैं। राजभवन में आयोजित किया जाने वाला वसंत उत्सव, वर्तमान में देहरादून की पहचान बन चुका है। पिछले वर्ष कोविड-19 के कारण इस पुष्प प्रदर्शनी का आयोजन नही कर पाये थे। इस अवसर पर सचिव राज्यपाल बृजेश संत, सचिव उद्यान हरबंश सिंह चुघ, अपर सचिव राज्यपाल जितेन्द्र कुमार सोनकर, निदेशक उद्यान डॉ. एसएस वावेजा आदि उपस्थित थे।