Home उत्तराखंड सनसनी: छावनी परिषद क्षेत्र में भीषण अग्निकांड, दोमंजिला भवन जल कर राख,...

सनसनी: छावनी परिषद क्षेत्र में भीषण अग्निकांड, दोमंजिला भवन जल कर राख, नगदी, जेवरात सहित लाखों का नुकसान

73
0

अग्नि शमन कर्मचारियों ने 2 घंटे की मशक्कत के बाद पाया आग में काबू

संंवाददाता
नैनीताल, 02 मार्च।

सरोवर नगरी के भवाली रोड छावनी परिषद  कैलाखान के आगे पिगरी बैंड के ऊपर आग लगने से शहर में सनसनी फैल गई। पीड़ित परिवार के लोगों ने  112 में आग लगने की सूचना दी। थानाध्यक्ष तल्लीताल विजय मेहता पुलिस के साथ तत्काल मौके पर पहुंचे और अपनी टीम के साथ बचाव कार्य में जुट गए। इस दौरान प्रभारी क्षेत्राधिकारी प्रमोद कुमार और अग्निशमन बचाव दल भी मौके पर पहुंच गए और आग को बुझाने का प्रयास किया। उस बिल्डिंग में  6 परिवारों के लगभग 25 लोग रहते हैं। हादसा प्रात: लगभग 10:30  बजे के आसपास हुआ है।

पीड़ित अजय सोनकर ने बताया कि आग शुभम कुमार के कमरे से लगी। उसकी मां  मुन्नी देवी जो पैरालाइसिस हैं, उन्हें वह धूप में बिठाकर अपने कार्यालय चला गया और बहन बाजार काम से आ गई। एक भाई मोटरसाइकिल सर्विस कराने हल्द्वानी चला गया। घर में उस समय कोई नहीं था और आग वहीं से ही लगी। परिवार के लोगों ने आग बुझाने का प्रयास किया लेकिन तब तक आग  भवन के  दूसरी मंजिल पर पहुंच चुकी थी जिसके चलते एक गैस सिलेंडर में भी आग लग गई। आग को बढ़ता देख लोगों ने अपने सामान को बाहर निकालना शुरू किया और अफरा तफरी का माहौल हो गया। इस दो लाखों का सामान जलकर राख हो गया। पूरे भवन में सिलेंडर होने से यहां काफी हड़कंप का भी माहौल रहा।


इस बीच कुछ ही समय में आग ने विशाल रूप ले लिया। पुरानी लकड़ियों से बने भवन में आग ने देखते ही देखते विकराल रुप ले लिया।   इस बीच आग ने आसपास के अन्य लोगों के घरों को भी चपेट में ले लिया। यहां रितु सोनकर के अलावा संजू सोनकर, बंटी सोनकर, सुमित सोनकर, रिंकू सोनकर  अजय पाल व विजयपाल का घर जलकर राख हो गया। इस दौरान पूरे आउटहाउस में 6 परिवारों के 10 से अधिक सिलेंडर घरों के भीतर होने से यहां हड़कंप का माहौल रहा। लोगों द्वारा पहले गैस सिलेंडर को बाहर निकाला गया। कैंट के सीईओ कोहली आकाश संतोष और छावनी के कर्मचारी भी मौके पर पहुंच गए और बचाव कार्य में जुट गए।

मौके पर आर्मी के जवानों ने पहुंच आग बुझाने का प्रयास किया और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। दमकल के तीन वाहनों से आग पर काबू पाया गया। रोड से लगभग 120 फीट ऊपर खड़ी चढ़ाई पर दमकल कर्मियों को पानी का पाइप पहुंचाने में समय लग गया। विद्युत विभाग ने क्षेत्र की विद्युत आपूर्ति बंद कर दी और जल संस्थान ने कैंट पानी  की सप्लाई को भी शुरू किया। दमकलकर्मी और लोग बाल्टियों में पानी  भर भरकर आग बुझाने का प्रयास करते रहे। लगभग 2 घंटे के बाद आग पर काबू पाया जा सका। प्रभावित परिवारों की मानें तो आग से घर के सामान सहित लाखों रुपए की नगदी भी जलकर राख हुई है। इसमें सोने चांदी के आभूषण भी शामिल हैं। सूचना  मिलने पर पालिकाध्यक्ष सचिन नेगी भी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने मौका मुआयना कर प्रभावित लोगों को सहयोग करने का आश्वासन दिया। छावनी परिषद के सीओ    कोहली आकाश संतोष ने भी पीड़ित परिवारों को आर्थिक सहायता देने की बात कही। इस मौके पर अग्निशमन एसएसओ चंदन राम, मनोज भट्ट, रवि आर्य, गौरव कार्की, चंद जवाहर सिंह, कुलदीप सिंह, दिनेश सिंह, धीरेंद्र सिंह, जगत सिंह, नीरज कुमार, राजेंद्र नाथ, गोपाल सिंह, उमेश सिंह, छावनी परिषद से कुंवर सिंह , राजेंद्र सिंह पवार, चीता मोबाइल के हेड कांस्टेबल शिव सिंह राणा, सहित अन्य लोग बचाव में जुटे रहे।