Home अपराध रिश्वत: तनख्वाह देने की एवज में मांगी रिश्वत, दरगाह प्रबंधक चढ़ा...

रिश्वत: तनख्वाह देने की एवज में मांगी रिश्वत, दरगाह प्रबंधक चढ़ा विजीलेंस के हत्थे

158
0

संवाददाता

रुड़की, 9 जून।

विजिलेंस की टीम ने दरगाह प्रबंधक को दरगाह के सुपरवाइजर से रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है।  प्रबंधक हटाए गए सुपरवाइजर की तनख्वाह बनाने और उसे फिर से नौकरी पर रखने के नाम पर रिश्वत ले रहा था। दरगाह सुपरवाइजर की शिकायत पर विजिलेंस की टीम ने दरगाह कार्यालय पहुंच कर कार्रवाई की है।

पिरान कलियर दरगाह में तैनात दरगाह प्रबन्धक ने दरगाह के सुपरवाइजर राव सिकंदर की पिछले दिनों मिली शिकायतों के बाद उनकी सेवाएं समाप्त कर दी गई थी, लेकिन जांच के बाद ज्वाइंट मजिस्ट्रेट रुड़की ने उन्हें बहाल करने के आदेश जारी कर दिए थे। सुपरवाइजर राव सिकंदर से दरगाह प्रबंधक ने उन्हें फिर से तैनाती दिए जाने और उसका वेतन बनाये जाने के नाम पर उससे डेढ़ लाख रुपए की मांग की थी। सुपरवाइजर राव सिकंदर ने प्रबन्धक को किश्तों में पैसे देने की बात कही थी, इसी बीच सुपरवाइजर ने मामले की जानकारी 30 मई को विजिलेंस की टीम को दी और बताया कि प्रबन्धक ने उससे एक लाख पचास हजार रुपये की मांग की है। विजिलेंस की टीम ने मामले की गम्भीरता को देखते हुए योजना तैयार कर राव सिकंदर को अपने पास से दस हजार रुपए की रकम लेकर प्रबंधक के पास दरगाह कार्यालय भेजा। जैसे ही प्रबंधक ने सुपरवाइजर से पैसे लेकर अपने पास रखें तो कुछ ही समय बाद विजिलेंस की टीम ने वहां पहुंच कर दबिश दे दी और प्रबंधक को रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ लिया। विजिलेंस सीओ सुरेन्द्र सामंत ने बताया कि दरगाह के सुपरवाइजर राव सिकन्दर की शिकायत पर प्रबंधक को दस हजार की रकम के साथ हिरासत में लिया गया है, टीम की कार्रवाई अभी जारी है। इस मौके पर इंस्पेक्टर मनोज रावत, तुसार बोरा, साधना त्यागी, सिपाही गोपाल, अश्वनी यादव, मनोज शर्मा, विनोद रावत, जगदम्बा आदि टीम में शामिल है।