Home उत्तराखंड डरः सुबह होते ही दहशत में डूबा बागेश्वर, घरों से बाहर...

डरः सुबह होते ही दहशत में डूबा बागेश्वर, घरों से बाहर निकल आए लोग

255
0

संवाददाता

बागेश्वर, 8 जनवरी।
उत्तराखंड  के बागेश्वर में आज सुबह 10 बज कर पांच मिनट पर भूकंप के झटके महसूस किए गए। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 3.3 आंकी गई है। भूकंप के झटकों से फिलहाल किसी तरह के नुकसान की सूचना नहीं है।
सुबह के समय आए इस भूकंप का केंद्र बागेश्वर में जमीन के भीतर दस किलोमीटर था। शुक्रवार की सुबह के समय भूकंप को जिन लोगों ने महसूस किया वे डर कर अपने घरों से बाहर निकल आए। उत्तराखंड के पिथौरागढ़, उत्तरकाशी, चमोली जिले में अमूमन भूकंप आते रहते हैं।

संवेदनशील है उत्तराखंड

भूकंप की दृष्टि से उत्तराखंड बेहद संवेदनशील है। राज्य के अति संवेदनशील जोन पांच की बात करें इसमें रुद्रप्रयाग, बागेश्वर, पिथौरागढ़, चमोली, उत्तरकाशी जिले आते हैं। ऊधमसिंहनगर, नैनीताल, चंपावत, हरिद्वार, पौड़ी व अल्मोड़ा जोन चार में हैं और देहरादून व टिहरी दोनों जोन में आते हैं।

ये हैं भूकंप के कारण

भू—वैज्ञानिकों के मुताबिक पिछले चार सालों में मेन सेंट्रल थ्रस्ट पर 71 से ज्यादा बार भूकंप के झटके आ चुके हैं। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि यह क्षेत्र कितना सक्रिय है। उनका कहना है कि छोट—छोटे भूकंप के झटके बड़े झटकों की संभावनाओं को रोक देते है। मेन सेंट्रल थ्रस्ट के रूप में जाने जानी वाली दरार 2500 किमी लंबी और कई भागों में विभाजित है। इंडियन और एशियन प्लेट के बीच दबाव टकराने और घर्षण से भूकंप की घटना होती है।