Home उत्तराखंड आक्रोश: आम जनता को राहत की बजाय आफत का उपहार, यूकेडी नेता...

आक्रोश: आम जनता को राहत की बजाय आफत का उपहार, यूकेडी नेता एन के गुसाईं का आरोप

70
0

देहरादून, 30 मई।
उत्तराखंड क्रांति दल के पूर्व केंद्रीय उपाध्यक्ष एडवोकेट एन के गुसाईं ने कहा कि जहां एक ओर देशवासी कोरोना महामारी की दूसरी लहर से हताहत हैं वही कोड में खाज ये कि पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में लगातार उछाल आ रहा है। इसी महीने तेल की कीमतें केवल मई माह में 15 बार बढ़ाकर तेल कंपनियों ने आम जनता को वर्तमान महामारी के नाजुक दौर में राहत के बजाय आफत उपहार देकर इंसानियत को भी शर्मसार करने जैसा काम किया है।       एडवोकेट गुसाईं ने कहा कि विपक्ष में रहते हुए मूल्यवृद्धि पर  सड़क से लेकर संसद तक प्रदर्शन करने वाली भारतीय जनता पार्टी वर्तमान समय में पेट्रोलियम पदार्थों की बढ़ती कीमतों को नियंत्रित करने में पूरी तरह से विफल साबित हो रही है।
वर्तमान समय में जबकि देशवासी महामारी से जूझ रहे हैं ऐसे में पेट्रोलियम पदार्थों की बढ़ती कीमतों को बढ़ाने से महंगाई बेलगाम हो जाएगी और आम जनता का जीवन दुश्वार हो जायेगा।
यूकेडी नेता गुसाईं ने कहा कि कांग्रेस पार्टी भी इस समय मुख्य विपक्षी पार्टी के रूप में  नजर नहीं आ रही है। कांग्रेस की भूमिका तो केंद्र सरकार के खिलाफ विपक्ष के रूप में भी नजर नहीं आ रही है, जहाँ वह मुख्य विपक्षी की भूमिका में है।
गुसाईं ने केन्द्र व राज्य सरकारों को अपने अपने स्तर से पेट्रोलियम पदार्थों पर लगने वाले टैक्स को कम करके आम जनता को राहत देने की मांग की है, ताकि आम जनता वर्तमान  वैश्विक कोरोना महामारी में कुछ राहत महसूस कर सके।