Home उत्तराखंड एम्स: नर्सिंग ऑफिसरों  के लिए कार्यशाला, विशेषज्ञों ने सिखाए संक्रमण की रोकथाम...

एम्स: नर्सिंग ऑफिसरों  के लिए कार्यशाला, विशेषज्ञों ने सिखाए संक्रमण की रोकथाम के हुनर   

158
0

 सत्येंद्र सिंह चौहान                                   

ऋषिकेश, 06 जुलाई।

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में संस्थान के विभिन्न विभागों के संयुक्त तत्वावधान में ट्रेनिंग ऑफ ट्रेनर्स इन मेकिंग लिंक इन्फेक्शन प्रिवेंशन नर्सेस विषय पर आधारित कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें विशेषज्ञों ने नर्सिंग ऑफिसरों को संक्रमण की रोकथाम के लिए जरूरी सावधानियों के बाबत विस्तृत जानकारी दी गई।                                                                             संस्थान में सोमवार को निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत  के मार्गदर्शन में डिपार्टमेंट ऑफ एडवांस सेंटर फॉर कंटिन्यूअस प्रोफेशनल डेवलपमेंट (एसीसीपीडी), इन्फेक्शन कंट्रोल टीम व डिपार्टमेंट ऑफ नर्सिंग सर्विसेस की ओर से ट्रेनिंग ऑफ ट्रेनर्स इन मेकिंग लिंक इन्फेक्शन प्रिवेंशन नर्सेस विषय पर प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया।

    इस अवसर पर निदेशक एम्स पद्मश्री प्रो. रवि कांत ने नर्सिंग ऑफिसरों को गुणवत्तापरक नर्सिंग केयर की महत्ता के बारे में बताया। उन्होंने नर्सेस को अपनी सेवाओं को नियमितरूप से और अधिक बेहतर बनाने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने बताया कि संस्थान अंतरराष्ट्रीय मानकों को ध्यान में रखते हुए नर्सिंग ऑफिसरों को तैयार कर रहा है जो देश ही नहीं दुनिया में अपनी बेहतर सेवाएं प्रदान कर सकते हैं।     डीन हॉस्पिटल अफेयर्स प्रो. यू. बी मिश्रा ने बताया कि नर्सेस की अस्पताल में संक्रमण के नियंत्रण में महत्वपूर्ण भूमिका होती है। लिहाजा उन्हें इस दिशा में बेहतर से बेहतर भूमिका सुनिश्चित करनी चाहिए।

कार्यशाला में एम्स की हॉस्पिटल इन्फेक्शन कंट्रोल टीम के सदस्यों द्वारा माइक्रो बायोलॉजी विभागाध्यक्ष प्रोफेसर प्रतिमा गुप्ता व हॉस्पिटल इन्फेक्शन कंट्रोल ऑफिसर डा. अंबर प्रसाद की अगुवाई में संस्थान के नर्सिंग स्टाफ को मरीजों में होने वाले विभिन्न तरह के संक्रमण की रोकथाम के लिए जरुरी उपायों व सावधानियों पर व्याख्यानमाला प्रस्तुत की गई।

कार्यशाला में प्रतिभागियों को मरीज के शरीर के किसी भी हिस्से में बने घाव में संक्रमण पर नियंत्रण रखने के लिए बरती जाने वाली जरुरी सावधानियों, मरीज के आसपास स्वच्छता बनाए रखने से संक्रमण से किस तरह से बचाया जा सकता है आदि बिंदुओं की जानकारी दी गई। बताया गया कि कार्यशाला का उद्देश्य अस्पताल की प्रत्येक यूनिट में मॉनिटरिंग के लिए एक लिंक इन्फेक्शन प्रिवेंशन नर्स हो,जिसके लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम के माध्यम से नर्सेस को दक्ष बनाया जा रहा है।                               इस दौरान एसीसीपीडी विभागाध्यक्ष प्रो. शालिनी राव, डा. वान्या सिंह, डा. डेविस, डा. निधि, इन्फेक्शन कंट्रोल नर्सिंग ऑफिसर्स अशोक, प्रजिथा, अनीता, कोमल, महेश, सुमन आदि ने नर्सिंग स्टाफ को स्टेंडर्ड प्रिकॉशंस (हैंड हाईजीन, यूज ऑफ पीपीई, बायोमेडिकल वेस्ट मैनेजमेंट, क्लिनिंग एंड डिसइन्फेक्शन, लिनन मैनेजमेंट) आदि संबंधी ट्रेनिंग दी गई। इस अवसर पर आयोजक मंडल में एएनएस वंदना सिंह, ट्रेनिंग को-ऑर्डिनेटर पंकज पुंजोत आदि शामिल थे।