अंकिता भंडारी हत्याकांड: एक साल बाद भी नहीं मिल सका न्याय, हत्यारों को फांसी देने की मांग हुई मुखर

अंकिता भंडारी हत्याकांड: एक साल बाद भी नहीं मिल सका न्याय, हत्यारों को फांसी देने की मांग हुई मुखर
Spread the love

 

बागेश्वर। पौड़ी गढ़वाल के यमकेश्वर ब्लॉक के अंतर्गत वनंत्रा रिजार्ट में नौकरी करने वाली अंकिता भंडारी की हत्या को एक साल पूरा होने के बाद भी न्याय न मिलने पर प्रदेश के लोगों में भारी गुस्सा है। आज इस हत्याकांड की बरसी पर जहां कांग्रेसियों ने बागेश्वर में जनाक्रोस रैली निकालकर अंकिता के हत्यारों को फांसी देने की मांग की वहीं राजधानी दून में क्षत्रिय कल्याण समिति द्वारा एक श्रद्धांजलि सभा का आयोजन कर अंकिता भंडारी हत्याकांड की सीबीआई से जांच करने की मांग करते हुए अंकिता को श्रद्धांजलि दी गई।
आज से एक साल पहले ऋषिकेश के निकट गंगा भोगपुर स्थित वनंत्रा रिजार्ट में काम करने वाली अंकिता भंडारी की हत्या का मामला सामने आया था। पौड़ी निवासी अंकिता भंडारी की हत्या का खुलासा होने के बाद वंनत्रा रिजार्ट के स्वामी का बेटा पुलकित तथा मैनेजर सौरभ व अंकित को पुलिस ने गिरफ्तार किया था तथा उनकी निशानदेही पर अंकिता का शव भी बरामद किया गया था लेकिन इस हत्याकांड की जांच आगे न बढ़ने तथा इस हत्याकांड के कारणों से जुड़े एक वीआईपी के नाम का खुलासा आज तक नहीं हो सका है, जिसे लेकर प्रदेश की जनता में भारी आक्रोश है। बागेश्वर में आज कांग्रेसियों ने जनाक्रोश रैली निकालकर अंकिता के हत्यारों को फांसी देने तथा मामले की सीबीआई जांच करने की मांग की। गांधी चौक पर दिवंगत अंकिता भंडारी को श्रद्धांजलि दी गई है।
वहीं, दून में क्षत्रिय कल्याण समिति के पदाधिकारियों ने एक श्रद्धांजलि सभा में अंकिता को श्रद्धांजलि देते हुए इस मामले की सीबीआई जांच की मांग उठाई है। लोगों का कहना है कि न्याय के लिए अंकिता के गरीब मां—बाप दर—दर ठोकरे खा रहे हैं लेकिन पहाड़ की बेटी को इंसाफ नहीं मिल पा रहा है। कार्यक्रम में अतुल नेगी, कुंवर सिंह पुंडीर ,डीबीएस चौहान व विजय लांबा ने भी अपने विचार रखें।

Parvatanchal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *