Home राजनीति विधायक गणेश जोशी को दलित विरोधी बताया, पुतला फूंक कर विरोध...

विधायक गणेश जोशी को दलित विरोधी बताया, पुतला फूंक कर विरोध जताया

112
0

                                 

देेरादून – उतराखण्ड प्रदेश कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के पूर्व संयोजक मोहन कुमार काला एवं महानगर अध्यक्ष आशीष देशाई के संयुक्त नेतृत्व में सरकार एवं  मसूरी विधायक  गणेश जोशी पर दलित विरोधी मानसिकता का आरोप लगाते हुए दहन किया गया। इस अवसर पर पूर्व संयोजक मोहन कुमार काला ने विधायक जोशी की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि भाजपा की मानसिकता दलित विरोधी है और भाजपा सरकार देश के संविधान को तहस-नहस करने पर लगी है। उन्होंने भाजपा को दलित विरोधी करार देते हुए कहा कि एक तरफ मोदी देश में सबका साथ सबका विकास की बात करते हैं दूसरी तरफ उनकी सरकारें समाज को बांटने का काम कर रही हैं। उन्होंने दलित समाज से आह्वान करते हुए कहा कि ऐसी दलित विरोधी सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरकर कड़ा विरोध करें। 

मोहन कुमार काला ने कहा कि भाजपा विधायक जोशी बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर  द्वारा बनाये गये संविधान की खुल्लेआम धज्जियां उडा़ रहे हैं। काला ने कहा कि  विधायक जोशी द्वारा रोस्टर एवं आरक्षण समाप्त किये जाने सम्बन्धित एक पत्र मुख्यमंत्री  को सौंपा गया है जिस पर सरकार ने रोस्टर पर शासनादेश जारी किया है।  दलित समाज इस की कड़ी आलोचना करता है। महानगर अध्यक्ष आशीष देशाई ने कहा कि दलितों का अपमान सहन नहीं किया जायेगा। यदि सरकार ने शीध्र ही शासनादेश को यथावत नहीं रखा तो दलित समाज सड़कों पर उतरकर भाजपा की जनविरोधी नीतियों को समाज के बीच ले जाकर भाजपा के चेहरे को बेनकाब करेगा। इस अवसर पर महानगर अध्यक्ष लाल चंद शर्मा,महानगर महिला अध्यक्ष कमलेश रमन,कैलाश वाल्मीकी,दीपक पंवार, अर्जुन सोनकर पार्षद,मुकेश सोनकर, विजय सोनकर,अमन उज्जैनवाल, वसीम अहमद,आजम खान, डां. सुरेंद्र कुमार, विजय मिस्त्री, दीवान बिष्ट,गुल मोहम्मद,सावित्री थापा,साधना,अनुराधा,मंजू,संतोष सैनी,उदिमा व ओमप्रकाश आदि मौजूद थे।